Home TOP NEWS सरकारी मदरसे और संस्कृत स्कूल होंगे बंद सरकार का तर्क, जनता के...

सरकारी मदरसे और संस्कृत स्कूल होंगे बंद सरकार का तर्क, जनता के पैसों से धार्मिक शिक्षा देने का प्रावधान नहीं

गुवाहाटी / असम की सरकार ने सरकारी पैसों से धार्मिक शिक्षा बंद करने का फैसला क्या लिया. असम सरकार का कहना है कि जनता के पैसों की फिजूलखर्ची अब नहीं होगी. असम सरकार ने कहा है कि जनता के पैसे से धार्मिक शिक्षा का प्रावधान नहीं है. ये आदेश असम के संस्कृत स्कूलों पर भी लागू होगा. वहीं विपक्ष के नेता ने सरकार के फैसले पर सवाल उठाए है. बदरुद्दीन अजमल ने कहा है कि सरकार आई तो फैसला वापस होगा. 

असम सरकार में मंत्री हेमंता बिस्वा शर्मा ने घोषणा की है कि राज्य के सभी सरकारी मदरसे बंद किए जाएंगे. उन्होंने कहा है कि पब्लिक के रुपयों से धार्मिक शिक्षा देने का प्रावधान नहीं है, इसलिए सरकारी मदरसे अब नहीं संचालित होंगे. साथ ही सरकारी मदद से चल रहे संस्कृत विद्यालय भी अब बंद कर दिए जाएंगे. इस बाबत नोटिफिकेशन अगले महीने जारी कर दिया जाएगा.

असम सरकार के इस बयान पर AIUDF प्रमुख और लोकसभा सांसद बदरुद्दीन अजमल ने कहा कि अगर बीजेपी की राज्य सरकार सरकारी मदरसे बंद कर देगी तो उनकी सरकार इन्हें फिर से खोल देगी. बता दें कि अमस में अगले साल विधानसभा चुनाव प्रस्तावित हैं. विपक्ष इसे चुनावी मुद्दा बनाने की तैयारी में है.

Must Read

VIDEO – रमदईया धाम में जवारा विसर्जन की धूम, देवी मां को खुश करने सैकड़ों भक्तों ने मुंह में छिदवाया बाना

00 भक्त मुंह में बाना छिदवाकर झूमते व झुपते दिखे00 भजन व भोग-भंडारे से भक्तिमय रहा माहौल

कोरिया के इस पंडाल में माता की मूर्ति नही, तस्वीर पर पूजा अर्चना कर मनाया गया नवरात्रि त्योहार

कोरिया / दुर्गा पूजा या नवरात्रि, हिंदू समुदाय के लोगों द्वारा मनाए जाने वाले सबसे महत्वपूर्ण हिंदू त्योहारों...

स्व अजीत जोगी के अपमान से व्यथित रेणु जोगी ने कांग्रेस नेताओं पर साधा निशाना, बोलीं निर्वाचन अधिकारी से करेंगी शिकायत

00 स्तरहीन बयानबाज़ी करना बंद करें कांग्रेस अध्यक्ष - रेणु जोगी 00 कांग्रेस अध्यक्ष ने सिर्फ स्व. अजीत जोगी...

IPL किक्रेट सटोरियो के विरुद्ध पुलिस की बडी कार्यवाही,भाटिया सहित चार गिरफ्तार

राजनांदगांव / डोंगरगढ़ व नागपुर ( महाराष्ट्र ) के है आरोपीगण आज को जुर्म जरायम पतासाजी के दौरान सूचना मिली कि अटल...

अजीब दादागिरी, कोरिया में ठेकेदार तय कर रहे हैं रेत के दाम, नीलामी के बाद से परिवहनकर्ता परेशान

00 मेरी दुकान चाहे जितनी में बेचू समान - ठेकेदार00 बिहार राज चलेगा जो करना है कर लो - ठेकेदार00 पीट पास...
error: Content is protected !!