फ़ार्मासिस्टों ने स्वास्थ्य मंत्री के गृह नगर में बैठक कर सरकारी पदों पर भर्ती की माँग दोहराई

0
187

00 छत्तीसगढ़ में है दवा उद्योग की अपार सम्भावनाए – राहुल वर्मा

अम्बिकापुर / इंडियन फार्मासिस्ट एसोसिएशन (IPA) छत्तीसगढ़ स्टेट ब्रांच के सरगुजा संभाग की बैठक आयोजित किया गया जिसमे सरगुजा संभाग के पांचो जिलो कोरिया , सरगुजा , बलरामपुर , जशपुर और सूरजपुर के फार्मासिस्टों के साथ साथ पुरे प्रदेश के विभिन्न जिलों रायपुर , बिलासपुर , दुर्ग , बालोद , मुंगेली , बलोदाबाज़ार , बेमेतरा से लगभग 100 फार्मासिस्ट शामिल हुवे।

छत्तीसगढ़ प्रदेश में फार्मासिस्ट के शासकीय पदों में भर्ती नहीं होना , दवा व्यवसाय में बढ़ रहे फार्मेसी डिग्री रेंटिंग की समस्या , फार्मेसी कालेजों में नॉन अटेंडिंग डिप्लोमा की पढाई धडल्ले से चलाना , छ.ग. स्टेट फार्मेसी कौंसिल की उदाशीनता आदि समस्याओ को लेकर बैठक में चर्चा की गई। राज्य संयोजक फार्मासिस्ट वैभव शास्त्री जी ने दो नए जिलों जशपुर और सूरजपुर IPA डिस्ट्रिक्ट ब्रांच का गठन कर पदाधिकारियों की नियुक्ति की। IPA जशपुर डिस्ट्रिक्ट ब्रांच के अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी फार्मासिस्ट विवेकानंद होता को दी गई उपाध्यक्ष फार्मासिस्ट पूनमचंद महतो , सचिव फार्मासिस्ट विक्रम बरार एवं सह सचिव फार्मासिस्ट गोपाल यादव को बनाया गया | सूरजपुर डिस्ट्रिक्ट ब्रांच के अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी फार्मासिस्ट विशाल दुबे एवं फार्मासिस्ट रूप नारायण यादव को सचिव बनाया गया। बलरामपुर डिस्ट्रिक ब्रांच में फार्मासिस्ट ब्रिजेश गुप्ता को नया अध्यक्ष नियुक्त किया गया फार्मासिस्ट अनजनी भगत को सहसचिव एवं फार्मासिस्ट हिमांशु एम्बास्ट को IT सेल प्रभारी नियुक्त किया गया। सरगुजा डिस्ट्रिक्ट ब्रांच में कुछ नए फार्मासिस्टों को जिम्मेदारी प्रदान की गई फार्मासिस्ट अनिश अहमद को उपाध्यक्ष फार्मासिस्ट नीरज दुबे को मिडिया प्रभारी , फार्मासिस्ट देवेश जैसवाल को कोषाध्यक्ष , फार्मासिस्ट अभय अग्रहरी को सह सचिव बनाया गया | प्रदेश सचिव फ़ार्मासिस्ट राहुल वर्मा ने विस्तार से फ़ार्मासिस्ट हित में IPA के द्वारा किए जा रहे कार्यों के बारे में बताया और बैठक में उपस्थित फ़ार्मासिस्टों को स्टेट फ़ार्मेसी काउन्सिल के कार्य की जानकारी दी उन्होंने बताया राज्य निर्माण से लेकर अब तक स्टेट फ़ार्मेसी काउन्सिल में डिग्रीधारी फ़ार्मासिस्ट सदस्य नहीं बनने के कारण राज्य के फ़ार्मासिस्टों के हित में एक भी कार्य नहीं हो रहे हैं । स्वास्थ्य मंत्री जी से आह्वान किया है की स्टेट फ़ार्मेसी काउन्सिल में केवल डिग्रीधारी पंजीकृत फ़ार्मासिस्टों का मनोनयन हो ।

बैठक में सीनियर फ़ार्मासिस्ट लव प्रकाश देवांगन , प्रदेश IT सेल अध्यक्ष फ़ार्मासिस्ट बलवंत बंजारे , प्रदेश सचिव फ़ार्मासिस्ट मिथिलेश रत्नाकर ने भी उपस्थित फ़ार्मासिस्टों का मार्गदर्शन किया ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here