अब मैं रोज आऊंगा जिला अस्पताल, एक कमरा मेरे लिए आरक्षित करो मैं यही आकर रहूंगा – कलेक्टर डोमन सिंह

कोरिया / जिला चिकित्सालय बैकुंठपुर में लगातार कमियां दिखाई पड़ना कोई नई बात नही है। यही वजह रही कि जिले के कलेक्टर डोमन सिंह आज शाम अचानक जिला अस्पताल पहुचे और अव्यवस्था को देख भड़के जिसके लिए कलेक्टर ने अस्पताल के डॉक्टरों और स्टाफ को फटकार भी लगाई। डॉक्टरों को कलेक्टर कोरिया ने कहा कि अब मैं रोज आऊंगा जिला अस्पताल, एक कमरा मेरे लिए आरक्षित करो मैं यही आकर रहूंगा। इस दौरान बेड खाली होने के बाद भी जमीन पर लेटे मरीजों को देख सीएमएचओ को व्यवस्था दुरुस्त करने के भी निर्देश दिए।

इस दौरान जिला अस्पताल के सीएचएमओ डॉ रामेश्वर शर्मा सहित सभी डॉक्टर, नपा सीएमओ ज्योत्सना टोप्पो, तहसीलदार ऋचा सिंग पीडब्लूडी के अधिकारी मौजूद रहे।

बता दे कि कलेक्टर कोरिया डोमन सिंह अचानक आज शाम जिला अस्पताल पहुचे और आते ही डॉक्टरों पर बरसने लगे मानो उन्हें अस्पताल की सारी समस्याओं की जानकारी पूर्व से ही रही हो। अस्पताल में दाखिल होते ही एक के बाद एक उन्होंने अस्पताल के सभी वार्डों का व यूनिट्स का जायजा लिया। पर्ची काटने के काउंटर से लेकर, इमरजेंसी ड्यूटी के डॉक्टर की ओपीडी, आईसीयू और यहाँ तक कि जनरेटर और रसोई की भी व्यवस्था देखी और निर्देश दिया कि भोजन व्यवस्था को समय – समय पर खा कर भी देखें कि मरीजो को पोष्टिक व स्वादिष्ट भोजन परोसा जा रहा है या नही।

गौरतलब हो कि कलेक्टर के अचानक जिला अस्पताल पहुंचने की सूचना पहले ही जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ रामेश्वर शर्मा को लगने से वह अपने टीम के साथ आनन – फानन में अस्पताल पहुंचे। निरीक्षण के बाद कलेक्टर कोरिया ने अस्पताल अधीक्षक सह सिविल सर्जन डॉ सुनील गुप्ता को स्पष्ट रूप से चेताया कि मैं जिला अस्पताल अब रोज आऊंगा, मेरे लिए कमरे की व्यवस्था करो।

नपा सीएमओ अधिकारी को अस्पताल में सफाई व्यवस्था के लिए निर्देशित करते हुए कहा कि आप रोजाना अस्पताल आ कर सफाई व्यवस्था दुरुस्त कीजिए।

कलेक्टर कोरिया डोमन सिंह ने हमसे चर्चा करते हुए बताया कि कोरिया जिला आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र है, जहां दूरदराज से गरीब ग्रामीण उपचार के लिए आते हैं ऐसे में मुझे यह देखना जरूरी था जो मरीज आते हैं उन्हें जिला चिकित्सालय में किस प्रकार की सुविधाएं मिलती है। उन्होंने आगे बताया कि निरीक्षण के दौरान अस्पताल में जगह होने के वावजूद भी मरीजों को जमीन पर सोना पड़ रहा है कई कमरे नए बने है उसे जल्द दुरुस्त कर दिया जाएगा ताकि मरीजों को बेड मुहैया हो सके।

2789total visits,2visits today

Share this news
  •  
  •  
  •  
  •