कोरिया में हिटलर की याद ताजा करा रहे DFO, पढ़िए आखिर क्या किया इस बार…

कोरिया वनमण्डल बैकुण्ठपुर में वनमण्डलधिकारी मनीष कश्यप की कार्यशैली को देखकर जर्मनी के हिटलर की याद ताजा हो जाती है।

आपको बता दे कि ऑफिस में इतना आतंक की कार्यालयीन कर्मचारी दहशत में काम करते नजर आते है।ऐसा इसलिए कि DFO कश्यप के द्वारा नया फरमान अपने कक्ष के बाहर की दीवार पर चस्पा कराया गया है। जिस पर धमकी भरे शब्दों में लिखा है की ऊंची आवाज पर बात न करे, फोन बंद / साइलेंट मोड पर डाल कर ही अंदर प्रवेश करें।

इस आदेश के चस्पा उपरांत उनकेे दफ्तर में सेवारत कर्मचारीयों में भय का माहौल देखने को मिल रहा है। क्योंकि सनकी DFO को गुस्सा आने पर अश्लील गाली ही उनके मुंह से निकलता है और अपने पद का दुरुपयोग कर तुरन्त छोटे कर्मचारियों को सेवा से मुक्त भी कर दिया जाता है।

गौरतलब हो कि कोरिया वन मंडल के DFO का वाहन चालक माखन प्रजापति जो दैनिक वेतनभोगी के रूप में लगभग 10 वर्षों से कोरिया वनमण्डलाधिकारी का शासकीय वाहन चला रहे थे। पिछले दिनों DFO कश्यप रायपुर प्रवास पर थे इस दौरान चालक माखन प्रजापति खाना – खाने चला गया। इस पर DFO कश्यप इतने क्रोधित हो गए कि ड्राइवर माखन को फोन पर ही अश्लील गाली देने लगे और दुबारा ड्यूटी पर नही आने का आदेश भी मौखिक रूप से दे दिए। DFO मनीष कश्यप के द्वारा ड्राइवर को फोन पर दिए किये गए गाली गलौज को ड्राइवर ने अपने मोबाइल पर रिकॉर्ड कर लिया, जो अब सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है।

वन मंडल अंतर्गत कार्यरत दैनिक वेतनभोगी कर्मचारीयों के ऊपर लगातार कार्यवाही कर नौकरी से हटाने का यह दूसरा मामला है। वनमण्डलधिकारी के इस प्रकार के रवैये से पूरे वन कर्मचारियों को अब डर सताने लगा है।



कोरिया वनमण्डल बैकुण्ठपुर के नाम से व्हाट्सएप पर एक ग्रुप बनाया गया है जिसमे वनमण्डल के कर्मचारी अधिकारी सहित दैनिक वेतनभोगी के कर्मचारी भी ग्रुप में जुड़े हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पिछले दिनों वन परिक्षेत्र अधिकारी सोनहत के शासकीय वाहन के चालक को DFO कश्यप ने गाली गलौज कर नौकरी से हटाने वाली न्यूज़ को ग्रूप का कोई सदस्य वनमण्डल के ग्रुप में शेयर कर दिया था। जब DFO की नजर इस न्यूज़ पर पड़ी तो तिलमिलाते हुए ग्रुप के admim को फोन पर ही उस सदस्य को हटाने की धमकी दे डाला। जिस पर डरे सहमे admin ने तुरंत आदेश का पालन करते हुए दैनिक वेतनभोगी कर्मचारियों को ग्रुप से हटा दिया था।



ऐसा मालूम चला है कि अब DFO मनीष कश्यप के द्वारा कर्मचारियों पर किये जा रहे लगातार अन्याय को लेकर छत्तीसगढ़ वन कर्मचारी संघ कर्मचारियों के हित को देखते हुए आंदोलन की तैयारी में है। इसी तारतम्य में छत्तीसगढ़ राज्य वन कर्मचारी संघ आगामी 9 जून को बैकुण्ठपुर में बैठक लेने जा रहे है। माना जा रहा है कि इस बैठक में DFO मनीष कश्यप के कार्यशैली को लेकर रणनीति बनाई जा सकती है।

43total visits,2visits today

Share this news
  •  
  •  
  •  
  •