डॉक्टर के रहस्यमयी ढंग से गायब होने और सोशल मीडिया पर वायरल एक सुसाइड नोट ने मचाया हड़कंप

बिलासपुर / डॉक्टर के रहस्यमयी ढंग से गायब होने तथा सोशल मीडिया पर वायरल एक सुसाइड नोट ने हड़कंप मचा दिया है।

डॉक्टर द्वारा प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री, गृह मंत्री, राजस्व मंत्री और डीजीपी समेत पुलिस और प्रशासन के आला अधिकारियों के नाम पर लिखा गया सुसाइड नोट में अग्रवाल दंपत्ती, प्रॉपर्टी डीलर समेत बर्खास्त राजस्व अधिकारी के द्वारा जमीन की खरीदी को लेकर मानसिक प्रताड़ित करने का आरोप लगया गया है।

पुलिस ने सिविल लाइन थाने में डॉक्टर की गुमशुदगी दर्ज कर उसकी तलाश के लिए हर पैतरे अपना रही है। मूलतः पेंड्रा निवासी पेशे से डॉक्टर प्रकाश सुल्तानिया (एमडी मेडिसिन) शुभम विहार कालोनी में रहकर मगरपारा रोड़ स्थित किम्स हॉस्पिटल में पिछले कुछ दिनों से पदस्थ है। बुधवार की सुबह वह रोज की तरह हॉस्पिटल के लिए घर से निकले उसके बाद से उनका कोई अता पता नहीं है। डॉक्टर की बाइक मिशन अस्पताल रोड़ स्थित मार्क हॉस्पिटल के पास खड़ी मिली। डॉक्टर के अचानक गायब होने की खबर लगते ही उनके परिजन और मित्रगण उनकी तलाश में जुट गए हैं। वहीं देर शाम जिले में पदस्थ एक डीएसपी ने पीएम, चीफ जस्टिस, सीएम, गृहमंत्री, राजस्व मंत्री, डीजीपी, कमिश्नर, आईजी, एसपी समेत तमाम लोगों के नाम छोड़ें गए सुसाइड नोट को सोशल मीडिया में वायरल कर खलबली मचा दी।

हस्ताक्षरयुक्त सुसाइडल नोट में डॉक्टर ने लिखा है कि वर्ष 2017 में राजेश अग्रवाल, संगीता अग्रवाल से प्रॉपटी डीलर प्रमोद यादव के माध्यम से सीपत मेन रोड खमतराई मोड़ पर चांटीडीह में जमीन खरीदा था। जिसमे बर्खास्त आरआई मथुरा कश्यप का अहम रोल था। जमीन के सौदे के बाद से ही सभी मिलकर डॉक्टर को मानसिक रूप से प्रताड़ित करने लगे थे। जिससे वह क्षुब्ध होकर ऐसा कदम उठा रहा है। वही सुसाइड नोट के अंतिम लाइन में डॉक्टर ने लिखा है कि उनकी मौत की सारी जिम्मेदारी खत में लिखे लोगो की होगी।

यह बात सामने आई कि जैसे ही डॉक्टर के अचानक गायब होने की खबर लगी उनके परिजनों और दोस्तो को इस बात का अहसास हो गया था कि कहि न कही यह मामला उक्त जमीन से जुड़ा है पहले तो इस मामले में एक पूर्व शराब ठेकेदार का नाम कुछ लोग बता रहे थे मगर पुलिस को मिले डॉक्टर के सुसाइड नोट में कुछ और ही नाम सामने आए है फिलहाल पुलिस हर पहलुओं पर नजर बनाए डॉक्टर की खोजबीन कर रही हैं।

वही डॉ प्रकाश के लापता होने और जमीन से जुड़े मामले का सुसाइट नॉट मिलने के बाद डॉ प्रकाश के गृह ग्राम पेंड्रा के लोगो मे जमकर नाराजगी है और आज स्थानीय लोगो के साथ अग्रवाल समाज के लोगो ने पुलिस प्रशासन को एक ज्ञापन सौपते हुए लापता डॉ को जल्द से जल्द खोजने और मामले में दोषियों के खिलाफ कार्यवाही किये जाने की मांग की है।

38total visits,1visits today

Share this news
  •  
  •  
  •  
  •