प्रदेश स्तरीय बैठक में जोगी ने कोर कमेटी और  जिलाध्यक्षों के साथ तय की आगे की रणनीति

रायपुर / जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) की विशेष प्रदेश स्तरीय बैठक आज रायपुर सागौन बंगले में संपन्न हुई। लोकसभा चुनाव पश्चात पार्टी की ये बैठक कई मायने मे विशेष रही। पूरे प्रदेश के जिला अध्यक्षों एवं कोर कमेटी के सदस्यों द्वारा पार्टी सुप्रीमो अजीत जोगी एवं अध्यक्ष अमित जोगी की उपस्थिति में उक्त बैठक संपन्न हुई। जिसके उपरांत सभी पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने सागौन बंगले में स्थित स्वर्गीय श्री राजीव गांधी जी की प्रतिमा का माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित की।

बैठक में मुख्य रूप से बस्तर से अंबिकापुर तक लगभग सभी जिला अध्यक्षों की उपस्थिति रही। बैठक को संबोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी ने 7 “स” सूत्र के तहत पार्टी की आगे की रणनीति तय की। अमित जोगी ने साफ तौर पर ये निर्देश दिए कि आने वाले नगरीय निकाय, त्रिस्तरीय पंचायती राज चुनाव, छात्रसंघ, मंडी एवं सहकारिता चुनावो मे क्षेत्रीयता की भावना को सर्वोपरी रखते हुये प्रदेश के एकमात्र मान्यता प्राप्त क्षेत्रीय दल का वर्चस्व हर वार्ड और हर ग्राम में दिखना चाहिए। इसके लिए एक पुख्ता नीति के तहत जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ मैदान में उतरेगी।

अमित जोगी ने आज पार्टी के जिलाध्यक्षों, मोर्चा संगठन के प्रदेश अध्यक्षो और पार्टी के कोर कमेटी के सदस्यों को “7 स” नीति पर संघर्ष से सत्ता तक का सफर तय करने का गुरुमंत्र दिया –
1. “संगठन” को मजबूती प्रदान करने हेतु नए सिरे से सदस्यता अभियान, सदस्यों के बीच समन्वय स्थापित करना, ‘छत्तीसगढ़िया सबले बढ़िया’ भाव के साथ ‘छत्तीसगढ़ प्रथम’ विचारधारा के प्रति समर्पण एवं संयम को आधार बनाकर नए सिरे से संगठन का निर्माण करना।
2. 21 जून 2019 को पार्टी ‘स्थापना दिवस’ के दौरान रायपुर में प्रदेश स्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन का आयोजन करना।
3. ‘स्थानीय चुनावो’ में जिलाध्यक्षों के नेतृत्व में ‘जिला स्तरीय चुनावी मण्डल’ का गठन। उपरोक्त मण्डल को स्थानीय चुनाव में रणनीति बनाने और प्रत्याशी चयन करने हेतु पूर्ण रुप से अधिकृत कर दिया गया है।
4. ‘स्थानीयता’ को पार्टी का प्रमुख आधार स्तम्भ बनाया जाये। इस हेतु (A) युवा नौकरियों में आउटसोर्सिंग का पुरजोर विरोध करेंगे, (B) महिलांए पूर्ण शराब बंदी लागू करने के लिए हर गांव और वार्ड में ‘गुलाबी गैंग’ का गठन करेगी, (C) सम्पूर्ण कर्जा एवं बिजली बिल माफी, रबि फसल की धान को भी ₹2500 प्रति क्विंटल समर्थन मूल्य में खरीदने और जल पर किसानो का प्रथम अधिकार स्थापित करने के किसानो के मुद्दों पर केंद्रित किसान-आंदोलन करेंगे तथा (E) समस्त संविदा कर्मचारियों के नियमितीकरण हेतु सरकार पर दबाव बनाया जाएगा।
5. छत्तीसगढ़ के सभी 36 सामाजो को संगठित कर प्रदेश की राजनीति मे नया ‘समाजिक समीकरण’ खड़ा किया जाएगा
6. स्ट्रेटजी (रणनीति) का आधार विरोधी दल की आपसी गुटबाजी का लाभ लेना, सरकार और विशेषकर स्थानीय विधायकों की विफलताओं को जनता के समक्ष रखना, जे.सी.सी.जे. को जनता के बीच एक मजबूत और सशक्त विकल्प के रुप में प्रस्तुत करना, जे.सी.सी.जे. को भाजपा की “बी” टीम नहीं बल्कि छत्तीसगढ़ियो की “ए” टीम के रुप में काम करना तथा ब्लॉक स्तर पर स्थानीय मुद्दों को लेकर साप्ताहिक धरना प्रदर्शन करना होगा।
7. ‘शोसल मीडिया’ के माध्यम से प्रदेश की जनता विशेषकर युवाओं तक ‘छत्तीसगढ़ प्रथम’ संदेश को रचनात्मक तरीके से पहुंचाएगे।

उक्त बैठक को पार्टी सुप्रीमो अजीत जोगी ने भी संबोधित किया। जोगी जी ने कहा कि ‘बीते लोकसभा चुनाव में देश में जहर घोल रही सांप्रदायिक ताकतों को रोकने जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) ने चुनावों में गैर-सांप्रदायिक मतों को विभाजित होने से रोकने के लिए चुनावी मैदान से बाहर रहना उचित समझा किंतु आगामी सभी चुनावो में क्षेत्रीय मुद्दो को सर्वोपरी रखकर छत्तीसगढ़ के कोने-कोने में, पंचायत से लेकर नगर निगम तक, “हल चलाता किसान” जोर-शोर से चलेगा और पूरे प्रदेश मे जोगी कांग्रेस का परचम लहरायेगा।‘ अजीत जोगी ने अपनी पार्टी के लोगों में उत्साह भरते हुए उन्हें आने वाले चुनावो की तैयारी करने एक जुट होकर, जमीन पर काम करने निर्देशित भी किया।

बैठक को विशेष रूप से संयोजक तिलक राम देवांगन, पूर्व विधायक आर.के. राय और परेश बाग़बाहरा, विधायक श्रीमती रेणु जोगी, इकबाल अहमद रिजवी, योगेश तिवारी, ओम प्रकाश देवांगन समेत अन्य वरिष्ट नेताओं ने संबोधित किया। बैठक का संचालन प्रभारी महामंत्री महेश देवांगन ने किया।

बैठक के समापन पूर्व पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी ने पूर्व प्रधानमन्त्री स्व. श्री राजीव गाँधी जी के जीवन पर और देश मे उनके योगदान पर प्रकाश डाल उन्हे धन्यवाद दिया। अमित जोगी जी ने कहा कि “स्वर्गीय राजीव गांधी जी एकमात्र कारण है कि मेरे पिता जी जैसे लोगों ने अपनी नौकरी छोड़ दी और खुद को #भारत_माता की सेवा में समर्पित कर दिया। उनके कारण भारत #वैश्विक_डिजिटल_क्रांति में सबसे आगे है। इसको स्वीकार करने में किसी को, ख़ासकर नरेंद्र मोदी @narendramodi जी को तकलीफ़ नहीं होनी चाहिए।” अन्त मे सभी ने सागौन बंगले मे लगी राजीव जी की प्रतिमा का माल्यार्पण कर उन्हे श्रद्धांजलि अर्पित की।

Share this news
  •  
  •  
  •  
  •