छग पंचायत न/नि. शिक्षक संघ की जिला स्तरीय समीक्षा बैठक कुनकुरी में हुई आयोजित, बड़ी संख्या में जुटे जिले भर के शिक्षाकर्मी

जशपुर / छत्तीसगढ़ पंचायत नगरीय निकाय शिक्षक संघ के प्रांतीय संगठन महामंत्री लीलाधर बंजारा के मुख्य आतिथ्य एवं जिलाध्यक्ष अनिल श्रीवास्तव की अध्यक्षता में जिला इकाई जशपुर की जिला स्तरीय समीक्षा बैठक रविवार को कन्या हाईस्कूल कुनकुरी के प्रांगण में आयोजित की गई।
विकास यात्रा के दौरान माननीय मुख्यमंत्री द्वारा संविलियन की घोषणा एवं केबिनेट द्वारा लिए गए निर्णय फलस्वरूप संगठन की यह बैठक कई मायनों में बहुत ही महत्वपूर्ण थी।

अपने वक्तव्य में लीलाधर बंजारा ने सर्वप्रथम अंबिकापुर से हुई माननीय मुख्यमंत्री द्वारा संविलियन की घोषणा को साधुवाद देते हुए जिले सहित प्रदेश भर के शिक्षाकर्मीयों को संविलियन की बधाई ज्ञापित की। श्री बंजारा ने प्रांतीय रणनीति की जानकारी देते हुए बताया कि प्रांतीय नेतृत्व वर्ग 03 के क्रमोन्नति एवं वेतन विसंगति हेतु निरंतर प्रयासरत है, साथ ही आगामी दो-तीन दिनों में मोर्चा के तीनों प्रमुख संचालक मुख्य सचिव से समस्याओं के संबंध में भेंटवार्ता करने की संभावित स्थिति में हैं।

जिलाध्यक्ष अनिल श्रीवास्तव द्वारा बैठक का मूल उद्देश्य बताया गया कि केबिनेट द्वारा संविलियन के निर्णय लेने के बाद भी आम शिक्षाकर्मी सशंकित और चिंतित हैं। घोषणा पश्चात् कैबिनेट निर्णय के बाद भी शंकाएँ यथावत थी, लेकिन कल के मुख्य सचिव के वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से बहुत सारी बातों से पर्दा उठ गया है और अब यह स्पष्ट हो गया है कि हमारा शासकीयकरण हुआ है। आदिम जाति संस्था के साथी टी (एलबी) और शिक्षा विभाग के शिक्षाकर्मी साथी ई(एलबी) कहलाये जाएंगे। साथ ही साथ हमारी सेवा की गणना प्रथम नियुक्ति तिथि से की जायेगी और इसी के आधार पर ही सातवें वेतनमान का निर्धारण किया जायेगा। चूँकि हमारी सेवा की गणना प्रथम नियुक्ति से की जा रही है इसलिए सभी आस्वस्त रहें कि क्रमोन्नति का लाभ भी आने वाले समय में हमें बहुत जल्द मिलेगा। यदि किसी कारणवश ऐसा नहीं होता है तो शासकीयकरण पश्चात् भी हमारी क्रमोन्नति की मांग सदैव जारी रहेगी। वर्ग01,02 एवं 03 के हमारे सभी साथी अपने मन में किसी भी तरह का भ्रम न पालें। संविलियन होने के बाद हमारे और एक नियमित शिक्षक में किसी भी तरह का कोई फर्क नहीं रह जायेगा, तमाम तरह की सुविधाएँ और लाभ एक शासकीय शिक्षक की तरह हम सब को मिलेगा।

जिलाध्यक्ष द्वारा बताया गया कि संविलियन की औपचारिकता पूरी करने के लिए जिलान्तर्गत सभी शासकीय विद्यालयों में कार्यरत शिक्षक पंचायत एवं नगरीय निकाय संवर्ग के साथियों को अपने छः वर्षों की चल-अचल संपत्ति की जानकारी, गोपनीय चरित्रावली, कर्मचारी कोड,आधार कार्ड, प्राण नम्बर, पैन नम्बर, एवं नवीनतम पासपोर्ट साइज फोटो सम्बंधित कार्यालयों में अविलम्ब जमा करनी है जिसकी तैयारी सभी साथी कर लेवें। साथ ही साथ जिले के सभी शिक्षाकर्मीयों से अपील की गई है कि वर्तमान में कुछ ऐसे लोग जो मोर्चा के हड़ताल में शामिल भी नहीं थे उनके पंख अभी निकल रहे हैं। वे क्रमोन्नति को मुद्दा बनाकर वर्ग03 के साथियों को अपना हितैषी बताकर उन्हें बरगलाने की कोशिश में लगे हैं; हम सभी को ऐसे लोगों से सावधान और सचेत रहने के साथ साथ सोशल मीडिया में अनावश्यक टिका-टिप्पणी से परहेज करने की आवश्यकता है। चूंकि संक्रमण काल है, ऐसे में सभी से धैर्य बनाये रखने की अपील जिलाध्यक्ष द्वारा की गई है।

169total visits,1visits today

Share this news
  • 12
  •  
  •  
  •