वीसी को निपटना है मुझे ज्वाइन कराना है.. 25 लाख में सौदा..वायरल स्क्रीन शार्ट में दावा

रायपुर / वीसी को निपटाना है, 20 लाख लगेंगे, मुझे ज्वॉइन करा दीजिये, वीसी परेशान करता है, उसे संघी कह कर बदनाम करो, जितनी शिकायत कर सकते हो करो बाकी मैं देख लूंगा, इसके आलावा और ना जाने क्या क्या बातें चैट में दिख रही हैं, दरअसल दो लोगो के वाट्सअप में आपस मे चैट के स्क्रीन शार्ट की प्रिंट आउट मार्केट में किसी ने बांट दी है, इन दोनों सख्स के बीच हुई बात चीत शासन में सेटिंग के खेल पर बड़े सवाल उठाती है, इस बात चीत को आधार माने तो एक प्राधायपक सेटिंग के बलबूते एक वीसी यानी की वाइस चांसलर को निपटाने की बात करता है, और उच्च अधिकारी जिसका नम्बर सेक्रेटरी के नाम से सेव प्रदर्शित हो रहा है वो इससे काम के बदले में मोटी रकम की डिमांड करता है।

हालाकी इस चैट के कितनी सत्यता है ये तो नही कहा जा सकता लेकिन चैट के प्रिंट आउट के साथ एक जानकारी भी चस्पा कर मिली है, जिसमे सरगुजा इंजीनियरिंग कालेज के प्रिंसिपल खरे और किसी जायसवाल सेकेट्री के बीच बात चीत का चैट होने का दावा किया गया है।

अब अगर वाकई ये चैट सही है तो मामला सरगुजा से जुड़ा हुआ है, अर्थात इस बात चीत में जिस वीसी को निपटाने की बात हो रही है वो सरगुजा की गहिरा गुरु यूनिवर्सिटी के वीसी रोहणी प्रसाद ही हो सकते हैं, क्योंकी सरगुजा का इंजीनियरिंग कालेज इसी विश्वविद्यालय के अधीन है।

बहरहाल हमने जब जानकारी जुटाई तो पता चला की वाकई में प्रिंसिपल खरे का वीसी से आंतरिक युद्ध लंबे समय से चल रहा है, आर्थिक अनियमितता मामले में खरे पर जांच चल रही है और इस वजह से वीसी ने उसे सस्पेंड किया था बस तभी से ये आंतरिक युद्ध छिड़ा हुआ है।

बहरहाल पद प्रतिष्ठा और लोभ की दास्तान हर जगह होती है लेकिन इस तरह से सेटिंग का उजागर होने के बाद प्रशासनिक व्यवस्था से भरोसा जरूर उठ जाता है, खैर मामला वाट्सएप चैट के प्रिंट आउट से जन्मा है, इसलिए इस बात पर मुहर नही लगाई जा सकती की यह बात वाकई में किस किस के बीच मे हुई है? ये वास्तव में स्क्रीन शार्ट हैं या किसी ने इसे फोटोशाप किया है? क्योंकी आजकल ऐसे खुरापतियों की तादात बढ़ी हुई है।

बहरहाल सच चाहे जो भी हो पर इस चैट की बातें पढ़कर आपको भी हैरानी होगी की वाइस चांसलर जैसे बड़े और सम्मानित पद के व्यक्ति को भी राजनीति का शिकार बनाया जा सकता है।

Share this news
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Comment