Home रायपुर दम घुटने से मर गई 50 गाय, सरकार जिम्मेदार - डॉ रमन

दम घुटने से मर गई 50 गाय, सरकार जिम्मेदार – डॉ रमन


रायपुर / पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने शनिवार को बिलासपुर जिले के तखतपुर विकासखंड मेढ़पार में हुई 50 गायों की मौत पर तीखी प्रतिक्रिया दी. उन्होंने गायों की मौत के लिए राज्य सरकार को जिम्मेदार बताते हुए कंहा की दम घुटने से 50 गायों की मौत हो गई, आखरी इसका जिम्मेदार कौन है?

उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार की गौठान योजना, रोका छेका योजना, सब कागजो में चल रही है, जमीन पर इस योजना का कोई क्रियान्वन नही हो रहा , सरकार केवल योजना के नाम पर वाहवाही बटोर रही है. डॉ. सिंह ने कंहा की मेढ़पार गांव से जो जानकारी मिली है, उसके मुताबिक
रोका छेका योजना के तहत इन गायों को पुराना पंचायत भवन के अस्थायी गौठान में लाया गया था. यंहा ना चारे की कोई व्यवस्था नही था, ना भूसा था, ना पैरा. पानी तक कि वंहा कोई व्यवस्था नही थी. 100 से अधिक गायों को एक कमरे में ठूस दिया गया, जानकारों ने बताया कि आक्सीजन नही मिलने और सफोकेशन के चलते गायों की मौत दम घुटने से हो गई.इसमें गर्भवती गाय भी थी. जो पूरी तरह स्वस्थ थी.

डॉ सिंह ने आगे कंहा की राज्य के किसी भी गौठान में गाय नही है, रोका छेका के तहत जिन गायों को पकड़कर लाया जा रहा है, उसके लिए भी गौठान समितियों को कोई प्रशिक्षण नही दिया गया है. 25-25 लाख रुपये खर्च कर गौठान बनाया गया है, उसकी हालत भी खराब है, छत और शेड गिर चुके है, बास बल्ली बारिश में उखड़ चुके है, बाउंड्रीवाल का निर्माण गुणवत्ता विहीन रहा, जिससे बाउंड्रीवाल धसक रही है.अधिकांश गौठनो में पानी भरा हुआ है. वंहा जानवरो के लिए बैठने की जगह नही है.

डॉ सिंह ने कंहा की 50 गायों की मौत पर सरकार को कड़ी करवाई करना चाहिए. सरकार को सचेत होना चाहिए कि जिन योजनाओं का ढिंढोरा पीटा जा रहा है उसकी जमीनी हकीकत क्या है? उन्होंने सुझाव भी दिया कि गौठान समिति का प्रशिक्षण नही हुआ, गौठानो के लिए बजट की व्यवस्था होनी चाहिए, पानी की व्यवस्था होनी चाहिए , वहां रात-दिन रहने वाला चौकीदार और राउत की व्यवस्था होनी चाहिए, पानी और मजबूत शेड जैसे उपाय करना होगा, वरना यह योजना केवल कागजो में ही धरी रह जायेगी.

डॉ सिंह ने आरोपो को दोहराते हुए कंहा की गौठान की व्यवस्था पूरे तरीके से प्रदेश में ध्वस्त हो चूकी है, नरवा, गरूवा, घरूवा, बाड़ी, कागज में बहुत अच्छा दिख रहा है पर धरातल में फेल हो चुकी है, पशुपालक अब मुआवजा की मांग कर रहे है, इस मामले में तत्काल जिम्मेदारी और दोषी अधिकारियों पर कार्रवाई करें. केवल गांव के पंचायत के भरोसे खुले स्थान में गौठान बना देने से इस व्यवस्था का यहीं हश्र होगा. उन्होंने फिर सचेत किया की प्रशासन अब भी सचेत हो जाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

कोयले के अवैध उत्खनन व बरतुंगा लोडिंग प्वाइंट में हो रही संगठित अवैध वसूली पर लगाम लगे – डोमरु रेड्डी

पूर्व महापौर ने स्थानीय पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान लगते हुए, शासन की हो रहे छवि खराब को लेकर आईजी सरगुजा...

रविवार से CAIT देश भर में शुरू करेगा चीन भारत छोड़ो अभियान,600 शहरों में सामाजिक दूरी एवं सुरक्षा के सभी नियम का पालन करते...

रायपुर / कन्फेडरेशन ऑफ आल इंड़िया ट्रेडर्स (कैट) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अमर पारवानी, प्रदेश...

निजी क्लिनिक, नर्सिंग होम एवं अस्पतालों में इलाज करवाने वाले कोविड-19 के संदिग्ध मरीजों की कराएं कोरोना जांच

स्वास्थ्य विभाग ने आईएमए को लिखा पत्र कोरोना संक्रमित पाए जाने वाले पर अस्पताल को...

बड़ी खबर – जिला अस्पताल का डॉक्टर निकाला कोरोना पॉजिटिव, मचा हड़कंप

कोरिया / जिला अस्पताल का डॉक्टर कोरोना पॉजिटिव निकाला। बताया जा रहा है कि डॉक्टर दूसरे राज्य से...

VIDEO – राम मंदिर भूमिपूजन के अवसर पर दीपों से जगमगाया कोरिया, MLA गुलाब कमरों व डॉ विनय ने डांस कर जाहिर की खुशी,...

00 जय श्री राम के जयकारों से गुंजा कोरिया00 चारों तरफ दिवाली जैसे महोत्सव00 जमकर हुई आतिशबाजी कोरिया /...
error: Content is protected !!