Home रायपुर निजी क्लिनिक, नर्सिंग होम एवं अस्पतालों में इलाज करवाने वाले कोविड-19 के...

निजी क्लिनिक, नर्सिंग होम एवं अस्पतालों में इलाज करवाने वाले कोविड-19 के संदिग्ध मरीजों की कराएं कोरोना जांच

स्वास्थ्य विभाग ने आईएमए को लिखा पत्र

कोरोना संक्रमित पाए जाने वाले पर अस्पताल को निसंक्रमित कर 24 घंटे बाद पुनः किया जा सकता है शुरू

रायपुर / राज्य शासन ने निजी क्लिनिकों, नर्सिंग होम्स एवं अस्पतालों में इलाज करवाने वाले कोविड-19 के सभी संदिग्ध मरीजों की कोरोना जांच कराने कहा है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की सचिव श्रीमती निहारिका बारिक सिंह ने इंडियन मेडिकल एसोशिएशन, छत्तीसगढ़ के अध्यक्ष को पत्र लिखकर निजी चिकित्सालयों में इलाजरत कोविड-19 के संदिग्ध मरीजों की तत्काल जांच कराने कहा है, जिससे कि इसके पीड़ितों की पहचान कर तुरंत उपचार शुरू किया जा सके। विभाग ने कहा है कि अस्पताल में इलाज करा रहे किसी मरीज के कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने पर अस्पताल को भारत सरकार, आईसीएमआर एवं राज्य शासन के दिशा-निर्देशों के अनुरुप निसंक्रमित (Disinfect) कर 24 घंटे के बाद पुनः शुरू किया जा सकता है।
   
स्वास्थ्य सचिव ने आईएमए को लिखे पत्र में कहा है कि प्रदेश वर्तमान में कोविड-19 संक्रमण की महामारी से जूझ रहा है। यहां अब तक कुल दस हजार से अधिक व्यक्ति इससे संक्रमित हो चुके हैं। कोविड-19 का संक्रमण अन्य रोग/रोगों से ग्रस्त व्यक्तियों में गंभीर बीमारी के रुप में परिलक्षित होता है। समय पर जांच, पहचान और उपचार नहीं होने पर मृत्यु होने की संभावना भी अधिक होती है। प्रदेश में अभी तक कोविड-19 से संक्रमित कुल 69 व्यक्तियों की मृत्यु हो चुकी है। इनमें से 51 व्यक्ति किसी अन्य बीमारी (COMORBIDITY) से ग्रसित रहे हैं।

स्वास्थ्य विभाग ने पत्र में लिखा है कि कोविड-19 संक्रमित व्यक्तियों की मृत्यु के संबंध में यह संज्ञान में आया है कि इनमें से अधिकतर अस्पताल में उपचार तो ले रहे थे, परन्तु इनके द्वारा स्वयं कोविड-19 की जांच समय पर नहीं कराई गई। इसलिए ऐसे सभी व्यक्तियों का जो निजी क्लीनिक, नर्सिग होम या अस्पताल में उपचार ले रहे हैं और ये कोविड-19 के संदिग्ध मरीज हैं, तो इनकी तत्काल कोविड-19 जांच किया जाना आवश्यक है। कोरोना वायरस संक्रमित पाए जाने पर उन्हें कोविड-19 अस्पताल रिफर किया जाना चाहिए।

Must Read

इस राज्य में एक अक्टूबर से सशर्त खुलेंगे सिनेमा हॉल, थिएटर

लेकिन इसमें 50 से ज्यादा प्रतिभागी शाामिल नहीं हो सकतेकोविड-19 से बचने के लिए दूसरी शर्तों के साथ दी जाएगी इजाजतसभी...

पत्रकारों को सरकारी तोहफा, 5 लाख का बीमा कवर देगी सरकार, संक्रमण से मौत पर 10 लाख मदद

लखनऊ / उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ऐलान किया है कि प्रदेश के मान्यता प्राप्त पत्रकारों को हर साल पांच...

योगी आदित्यनाथ को फिर मिली जान से मारने की धमकी

लखनऊ / उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को जान से मारने की धमकी मिली है. आपातकालीन नंबर 112 के व्हाट्सएप पर यह...

गोबर खरीदी एवं भुगतान में प्रदेश के टॉप 5 जिलों में शामिल कोरिया

00 कलेक्टर एस एन राठौर के नेतृत्व में जिले में गोधन न्याय योजना का सफल संचालन,00 योजना से जिले के किसान हो...

अपराधों की रोकथाम के लिए पुलिस ने चलाया ऑपरेशन क्लीन अभियान, 124 आरोपियों को किया गिरफ्तार

राजनांदगांव / राजनांदगांव पुलिस ने अपराधों की रोकथाम के लिए ऑपरेशन क्लीन अभियान चलाया। जिसमें जिले के अलग-अलग थाना क्षेत्र से लगभग...
error: Content is protected !!