SECL ने जीता कोल इंडिया चैंपियन का खिताब, चरचा कालरी के खिलाड़ियों ने दिखाया अपना दम खम

SECL ने जीता कोल इंडिया चैंपियन का खिताब, चरचा कालरी के खिलाड़ियों ने दिखाया अपना दम खम

00 एसईसीएल की टीम में 7 खिलाड़ी चरचा के… कोरिया चरचा कालरी से नीरज गुप्ता की रिपोर्ट / कोल इंडिया अंतर कंपनी फुटबॉल टूर्नामेंट में एसईसीएल की टीम में शामिल चरचा कालरी के 7 खिलाड़ियों ने जबरदस्त खेल व दमखम का प्रदर्शन करते हुए एसईसीएल की टीम को कोल इंडिया चैंपियन बनाने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया। यह पहला अवसर है जब पहली बार एसईसीएल की फुटबॉल टीम कोल इंडिया फुटबॉल टूर्नामेंट की चैंपियन बनी इसके पूर्व विगत 2 वर्षों से एसईसीएल के टीम फाइनल में रनर रहती थी। कोल…

Read More

जेएनयू के छात्रों पर हमले के खिलाफ वामपंथी पार्टियों ने किया प्रदर्शन

जेएनयू के छात्रों पर हमले के खिलाफ वामपंथी पार्टियों ने किया प्रदर्शन

कोरबा / जेएनयू के प्रशासन द्वारा की गई भारी फीस वृद्धि के खिलाफ वहां के छात्रसंघ के नेतृत्व में आम छात्रों द्वारा लोकतांत्रिक तरीके से चलाए जा रहे आंदोलन को कुचलने के लिए पुलिस प्रशासन, केंद्र सरकार और जेएनयू प्रशासन की सरपरस्ती में नकाबधारी और हथियारबंद संघी गुंडों द्वारा किये गए हमले के विरोध में आज कोरबा में मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी और भाकपा ने मिलकर ट्रांसपोर्ट नगर चौक पर एक विशाल विरोध प्रदर्शन किया और समूची फीस वृद्धि वापस लेने औऱ जेएनयू के कुलपति को हटाने की मांग की और…

Read More

यदि लोगों की नागरिकता संदिग्ध, तो मोदी सरकार भी अवैध : पराते

यदि लोगों की नागरिकता संदिग्ध, तो मोदी सरकार भी अवैध : पराते

जगदलपुर / “यदि मोदी सरकार की नज़रों में देश के 130 करोड़ लोगों की नागरिकता संदिग्ध है, तो उनके वोटों से चुनी गई यह सरकार भी अवैध है और इसे सत्ता में बने रहने का कोई हक नहीं है।” यह विचार मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के राज्य सचिव और छत्तीसगढ़ किसान सभा के अध्यक्ष संजय पराते ने आज जगदलपुर में संयुक्त मोर्चा द्वारा आयोजित सीएए-एनआरसी विरोधी रैली को संबोधित करते हुए व्यक्त किये। उन्होंने कहा कि हमारे संविधान में धर्म के आधार पर नागरिकता देने की बात ही नहीं है और…

Read More

सत्ता जाते ही आउट ऑफ कंट्रोल हुए भाजपा के बड़े नेता, पसंद के उम्मीदवार न बनने पर कर रहे अंदरूनी विरोध खतरे में कोरिया जिले में भाजपा का भविष्य

सत्ता जाते ही आउट ऑफ कंट्रोल हुए भाजपा के बड़े नेता, पसंद के उम्मीदवार न बनने पर कर रहे अंदरूनी विरोध खतरे में कोरिया जिले में भाजपा का भविष्य

कोरिया जिले में नगरीय निकाय चुनाव में मुंह की खाने के बाद भी भाजपा के नेताओं को कोई फर्क नही पड़ा है, अपना उल्लू सीधा न होते देख नेता अब पंचायत चुनाव में भी पार्टी लाईन से हटकर काम करते नजर आ रहे हैं ऐसा कहा जा सकता है कि प्रदेश में 15 वर्षों तक सत्ता की मलाई खाने के बाद सत्ता जाते ही अब वे आउट ऑफ कंट्रोल हो चुके हैं। बताया जाता है कि जिला पंचायत सदस्यों के लिए भारतीय जनता पार्टी ने सभी सीटों पर अपना अधिकृत प्रत्याशी घोषित…

Read More