हॉस्पिटल से डिस्चार्ज अमित जोगी की जेल में हुई वापसी

हॉस्पिटल से डिस्चार्ज अमित जोगी की जेल में हुई वापसी

पेंड्रा / अमित जोगी को आज रायपुर के बालाजी हॉस्पिटल से डिस्चार्ज करने के बाद कड़ी पुलिस सुरक्षा के साथ पेंड्रारोड के व्यवहार न्यायालय में पेशी के लिए लाया गया। जहा व्यवहार न्यायालय में अमित ने अपनी पैरवी खुद की पेशी के बाद पुलिस ने कड़ी सुरक्षा के बीच अमित को पेंड्रारोड उप जेल दाखिल कर दिया है वही अमित व्हीलचेयर के साथ जेल दाखिल किया गया। न्यायालय ने अमित जोगी को पुलिस विवेचना पूर्ण न होने की बात का उल्लेख कर न्यायिक अभिरक्षा में रखा है और 30 सितंबर…

Read More

इस मंदिर में रहते है 20,000 चूहे, जहाँ चूहों का झूठा प्रसाद मिलता है भक्तों को …VIDEO

इस मंदिर में रहते है 20,000 चूहे, जहाँ चूहों का झूठा प्रसाद मिलता है भक्तों को …VIDEO

यदि आपके घर में आपको एक भी चूहा नज़र आ जाए तो आप बेचैन हो उठेंगे। आप उसको अपने घर से भगाने की तमाम तरकीबे लगाएंगे क्योकि चूहों को प्लेग जैसी कई भयानक बीमारियों का कारण माना जाता है। लेकिन क्या आपको पता है की हमारे देश भारत में माता का एक ऐसा मंदिर भी है जहाँ पर 20000 चूहे रहते है और मंदिर में आने वालो भक्तो को चूहों का झूठा किया हुआ प्रसाद ही मिलता है। आश्चर्य की बात यह है की इतने चूहे होने के बाद भी मंदिर में बिल्कुल…

Read More

पति की दीर्घायु के लिए सौभाग्यवती स्त्रियां रखती हरतालिका तीज का व्रत …जानें 12 बातें जिनका रखना हैं खास ख्याल…

पति की दीर्घायु के लिए सौभाग्यवती स्त्रियां रखती हरतालिका तीज का व्रत …जानें 12 बातें जिनका रखना हैं खास ख्याल…

हमारे देश मे तीज त्योहार का खास महत्व होता है। बता दे कि हरतालिका तीज व्रत भगवान शिव और माता पार्वती के पुनर्मिलन के उपलक्ष्य में मनाया जाता है। इस व्रत को करने से अखंड सौभाग्य की प्राप्ति होती है। विवाह योग्य युवतियों को मनचाहा वर मिलता है। पढ़ें व्रत की खास बातें…. 1 . हरतालिका तीज व्रत में जल ग्रहण नहीं किया जाता है। व्रत के बाद अगले दिन जल ग्रहण करने का विधान है। 2. हरतालिका तीज व्रत करने पर इसे छोड़ा नहीं जाता है। प्रत्येक वर्ष इस…

Read More

VIDEO – महाकालेश्वर मंदिर जहाँ मुर्दे की भस्म से होती है महाकाल का श्रृंगार और दर्शन मात्र से होती है मोक्ष की प्राप्ति…

VIDEO – महाकालेश्वर मंदिर जहाँ मुर्दे की भस्म से होती है महाकाल का श्रृंगार और दर्शन मात्र से होती है मोक्ष की प्राप्ति…

महाकालेश्वर मंदिर भारत के 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक है जो मध्य प्रदेश राज्य में रुद्र सागर झील के किनारे बसे प्राचीन शहर उज्जैन में स्थित है जो हिंदुओं के सबसे पवित्र और उत्कृष्ट तीर्थ स्थानों में से एक है। इस मंदिर में दक्षिण मुखी महाकालेश्वर महादेव भगवान शिव की पूजा की जाती है। महाकाल के यहां प्रतिदिन सुबह के समय भस्म आरती होती है। इस आरती की खासियत यह है कि इसमें मुर्दे की भस्म से महाकाल का श्रृंगार किया जाता है। इस जगह को भगवान शिव का पवित्र…

Read More

VIDEO – छत्तीसगढ का शिमला मैनपाट, यहां सरभंजा जल प्रपात, ठिनठिनी पत्थर, उल्टा पानी जैसे रहस्यमयी स्थल देखने आते है पर्यटक …

VIDEO – छत्तीसगढ का शिमला मैनपाट, यहां सरभंजा जल प्रपात, ठिनठिनी पत्थर, उल्टा पानी जैसे रहस्यमयी स्थल देखने आते है पर्यटक …

मैनपाट अम्बिकापुर से 75 किलोमीटर दुरी पर है इसे छत्तीसगढ का शिमला कहा जाता है। मैंनपाट विन्ध पर्वत माला पर स्थित है अम्बिकापुर से मैंनपाट जाने के लिए दो रास्ते हैं पहला रास्ता अम्बिकापुर-सीतापुर रोड से होकर जाता और दुसरा ग्राम दरिमा होते हुए मैंनपाट तक जाता है। प्राकृतिक सम्पदा से भरपुर यह एक सुन्दर स्थान है। यहां सरभंजा जल प्रपात, टाईगर प्वांइट और मछली प्वांइट प्रमुख दर्शनीय स्थल हैं। मैनपाट से ही रिहन्द एवं मांड नदी का उदगम हुआ है। मैनपाट में मेहता प्वांइट भी एक दर्शनीय स्थल है।  पर्यटन की…

Read More

VIDEO बाबा धाम में उमड़ा जनशैलाब किसी महाकुंभ से कम नहीं यहाँ का नजारा, हर रोज लाख की संख्या में पहुंचते कावंड़ियों की भीड़

VIDEO बाबा धाम में उमड़ा जनशैलाब किसी महाकुंभ से कम नहीं यहाँ का नजारा, हर रोज लाख की संख्या में पहुंचते कावंड़ियों की भीड़

बाबा धाम या बाबा बैजनाथ धाम मंदिर झारखंड राज्य के देवघर जिले में विराजमान है। यह हिन्दुओं का प्रसिद्ध तीर्थ-स्थल है। शिव पुराण में बाबा बैजनाथ धाम मंदिर, देवघर को बारह जोतिर्लिंगों में से एक माना गया है। हर सावन में यहाँ लाखों शिव भक्तों की भीड़ उमड़ती है जो देश के विभिन्न हिस्सों सहित विदेशों से भी यहाँ आते हैं। ये शिव भक्त बिहार में सुल्तानगंज से गंगा नदी से गंगाजल लेकर 105 किलोमीटर की दूरी पैदल तय कर देवघर में भगवान शिव को जल अर्पित करते हैं।  हिंदू धर्म…

Read More

अजब – गजब है पूरी का जगन्नाथ मंदिर जहाँ विपरीत दिशा में लहराता है झंडा और मंदिर के ऊपर से कोई पक्षी नहीं गुजरता सकता VIDEO …

अजब – गजब है पूरी का जगन्नाथ मंदिर जहाँ विपरीत दिशा में लहराता है झंडा और मंदिर के ऊपर से कोई पक्षी नहीं गुजरता सकता VIDEO …

माना जाता है कि भगवान विष्णु जब चारों धामों पर बसे अपने धामों की यात्रा पर जाते हैं तो हिमालय की ऊंची चोटियों पर बने अपने धाम बद्रीनाथ में स्नान करते हैं। पश्चिम में गुजरात के द्वारिका में वस्त्र पहनते हैं। पुरी में भोजन करते हैं और दक्षिण में रामेश्‍वरम में विश्राम करते हैं। द्वापर के बाद भगवान कृष्ण पुरी में निवास करने लगे और बन गए जग के नाथ अर्थात जगन्नाथ। पुरी का जगन्नाथ धाम चार धामों में से एक है। यहां भगवान जगन्नाथ बड़े भाई बलभद्र और बहन…

Read More

VIDEO – खुद मां रमदईया देवी चलकर आई थी यहाँ अब भक्तो के आस्था का मुख्य केन्द्र बना, जहाँ 09 पीढ़ियों से बैगा कराते आ रहे पुजा

VIDEO – खुद मां रमदईया देवी चलकर आई थी यहाँ अब भक्तो के आस्था का मुख्य केन्द्र बना, जहाँ 09 पीढ़ियों से बैगा कराते आ रहे पुजा

कोरिया / जिला मुख्यालय से महज 4 किलोमीटर दूर ग्राम चेर में स्थित मां रमदईया मंदिर भक्तो के आस्था का प्रमुख केन्द्र बना हुआ है। देवी रमदईया माता के मंदिर की मान्यता है कि यहां जो कोई भी सच्चे मन से मां की पुजा उपसना करता है और माता के दरबार में माथा टेकता है तो उसकी हर मनोकमना पूरी होती है। यही वजह है की कोरिया जिला ही नही दूसरे जिले व प्रदेश से भी मां रमदईया धाम पर भक्त पहुचे है। आपको बता दे की घने वृक्षो से आच्छादित उची…

Read More

कोरिया में है बाबा भोलनशाह की मजार जहाँ हिन्दू परिवार चढ़ाता है पहला चादर, 46 वर्षो से चल रहा है सालाना उर्स…

कोरिया में है बाबा भोलनशाह की मजार जहाँ हिन्दू परिवार चढ़ाता है पहला चादर, 46 वर्षो से चल रहा है सालाना उर्स…

कोरिया / हजरत बाबा भोलनशाह वली रहमतुल्लाहअले की मजार पर लगने वाले तीन दिवसीय उर्स का आज से आगाज होने जा रहा है। आपको बता दे की देश के कौने – कौने से हजारों लोग हर वर्ष चादर चढ़ने यहाँ आते है, ऐसा कहते है की बाबा भोलनशाह की मजार पर सच्चे मन से जाकर यदि कोई मन्नत मागता है तो वह जरूर ही पूरी होती है और शायद यही कारण है की सालाना लगने वाले उर्स का यह लगभग 46 वाँ वर्ष है और पिछले  46   वर्षो से लगातार यह मजार आपसी भाईचारे और…

Read More

VIDEO – जोगी मठ – पुरातत्विक स्थल जहाँ भगवान जैन तीर्थांकर की 2 मूर्तियों का ये है इतिहास ?

VIDEO – जोगी मठ – पुरातत्विक स्थल जहाँ भगवान जैन तीर्थांकर की 2 मूर्तियों का ये है इतिहास ?

छत्तीसगढ़ का आदिवासी बाहुल्य कोरिया जिला प्राकृतिक सौंदर्य से अटा पड़ा है। एक ओर जहॉ घने वनों की हरियाली हर किसी के मन को मोह लेती है, वही दूसरी ओर जिले के अनेक पुरातात्विक स्थल कोरिया जिले की प्रमुख विशेषता है।  आज हम आपको एक ऐसे ही पुरातात्विक स्थल के बारे में बताने जा रहे है जिसके बारे में बहुत कम लोग ही जानते है और वो है कोरिया का जोगी मठ जिसे जोगी बाबा मंदिर के नाम से भी पुकारा जाता है।    यु तो कोरिया जिले के विकासखंड सोनहत में दर्जनों की संख्या में ऐसे पुरातात्विक स्थल…

Read More