Home Blog Page 3

संसदीय सचिव श्रीमती अम्बिका ने मकर संक्रांति, पोंगल और लोहड़ी की दी शुभकामनाएं

0

कोरिया / संसदीय सचिव श्रीमती अम्बिका सिंह देव ने जिलेवासियों को मकर संक्रांति, पोंगल और लोहड़ी पर्व की हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं दी है। उन्होंने इस अवसर पर सभी लोगों के लिए सुख-समृद्धि और खुशहाली की कामना की है।

      संसदीय सचिव श्रीमती अम्बिका सिंह देव ने कहा है कि सूर्य को अन्न धन का दाता और समस्त ऊर्जा का आधार माना गया है। भारत में सूर्य के दक्षिणायन से उत्तरायण होकर मकर रेखा की ओर जाने का स्वागत उमंग और उत्साह से किया जाता है। मकर संक्रांति का त्यौहार ऋतु परिवर्तन का संदेश लेकर आता है। देश के विभिन्न क्षेत्रों में इसे मकर संक्रांति, पोंगल और लोहड़ी पर्व के नाम से मनाते है। ये त्यौहार नव सृजन,सौहार्द और असीम प्रेम के प्रतीक हैं। यह पर्व देश, प्रदेश सहित सभी लोगों के जीवन में भी सुखद परिवर्तन लेकर आए।

अत्याचार की पर्याय बन चुकी केंद्र की भाजपा सरकार – कांग्रेस

0

00 टोल कम्पनी के एजेंट बन सुविधा की आड़ में कर रही अन्याय- रूपेश दुबे

राजनांदगांव / जिला कांग्रेस कमेटी ग्रामीण के प्रवक्ता रूपेश दुबे ने टोल में फास्टैग के मामले को लेकर केंद्र की भाजपा सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि जब से केंद्र में भाजपा की सरकार बैठी है तब से नोटबंदी,जीएसटी, कृषि कानून और अब सड़कों पर टोल वसूली के लिए फास्टैग की अनिवार्यता के कारण अत्याचार की पर्याय बन चुकी है केंद्र की भाजपा सरकार।

      

प्रवक्ता दुबे ने बताया कि केंद्र में बैठी भाजपा की सरकार सिर्फ और सिर्फ पूंजीपतियों की हितैषी सरकार है कृषि कानून लागू कर पूरे देश की कृषि और किसानो बर्बाद करने की साजिश अपने पूंजीपति मित्रों के इशारों पर कर रही थी जिसे सुप्रीम कोर्ट ने रोक लगा दी गई है अब केंद्र की मोदी सरकार 15 जनवरी से राजमार्गों में लगे टोल मे राशि वसूली के लिए नए नए नियम बनाकर आम जनता को परेशान करने का फरमान जारी कर दिया है। केंद्र सरकार टोल कंपनियों को फायदा पहुंचाने के लिए वाहनों में फास्टैग लगाने एवं नहीं लगाने की दशा में केस लेन में दुगनी राशि वसूलने का अन्याय कारी फरमान जारी किया है यहां यह बताना आवश्यक है कि टोल में फास्ट एक सुविधा है जिसे अनिवार्य बनाया जाना किसी भी परिस्थिति में उचित नहीं है व्यक्ति यदि लाइन लगाकर पैसा पटाना चाहता है वह उसकी स्वतंत्रता है कि वह सुविधा ना लेकर नगद राशि जमा कर टोल पार करना चाहता है इसमें कोई बाध्यता नहीं होनी चाहिए सबसे बड़ा अन्याय कारक पहलू यह है कि केंद्र सरकार ने थर्ड पार्टी बीमा फ़ास्ट टैग के अभाव में नहीं होने एवं बीमा क्लेम भी नहीं मिलने की बात कहकर अपनी अन्यायकारी और आतंकी रवैया को प्रदर्शित किया है वही अपने पूंजीपति मित्रो को लाभ देने के लिए भाजपा सरकार अपना राजधर्म तक भूल गई है सिर्फ जनता को परेशान करना और जनता से वसूली कर अपने पूंजीपति मित्रों के खजाने में जनता का पैसा जमा कराने की नीति और नियत पर काम कर रही है अभी देश कृषि कानून की निरस्तगी के लिए जूझ रहा है आने वाले दिनों में टोल कंपनियों के खिलाफ भी दुगनी राशि वसूलने की कार्यवाही के लिए भी आंदोलन होने पर जिम्मेदार केंद्र सरकार रहेगी ऐसी दशा में सुविधा को वसूली का माध्यम बनाने का हट छोड़ वर्तमान स्थिति अनुरूप कार्य चलने का देने आदेश जारी करे। राजनादगांव ठाकुरटोला का टोल तो अवैध होने के साथ साथ पूर्व मुख्यमंत्री व विधायक डॉ रमन जी की निष्क्रियता का दंश है।

भाजपा का धरना, प्रदर्शन राजनैतिक नौटंकी – कांग्रेस

0

भाजपा के धरने से किसानों ने बनाई दूरी, अनेकों ब्लाक में दर्जन भर भी भाजपाई नहीं जुटे
रायपुर/ प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भाजपा के धरने को किसानों का समर्थन नहीं मिला। भारतीय जनता पार्टी के द्वारा आयोजित धरना से किसानों ने अपने आपको अलग रखा एक भी किसान और किसान संगठन ने भाजपा के धरने को समर्थन नहीं दिया। जो भाजपा तीन काले कानून बना कर देश के किसानों के खिलाफ षड़यंत्र रची है। उस भाजपा के छत्तीसगढ़ इकाई के लोग किसानों के समर्थन में आंदोलन की नौटंकी कर रहे है। भाजपा का प्रदर्शन फ्लाप साबित हुआ, अनेकों ब्लाक में दर्जन भर भी भाजपाई नहीं जुटे। भाजपा नेताओं को वास्तव में किसानों की चिंता है तो वह केन्द्र की मोदी सरकार के खिलाफ आंदोलन करें जो छत्तीसगढ़ के धान उत्पादक किसानों को 2500 रू. धान की कीमत देने में अडंगेबाजी लगाती है। मोदी सरकार छत्तीसगढ़ के चावल में कटौती करती है। मोदी सरकार ने किसान सम्मान निधि से छत्तीसगढ़ के 25 लाख किसानों को वंचित रखा। भाजपा के किसी नेता ने छत्तीसगढ़ के किसानों के हित में केन्द्र से प्रधानमंत्री मोदी से बात करने की हिम्मत नहीं जुटाई।
प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि राज्य में अब तक 70 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी हो चुकी है। प्रदेश में अब तक लगभग 17 लाख किसानों का धान सरकार खरीदी कर चुकी है। जब धान खरीदी का लक्ष्य 80 फीसदी पूरा हो गया तब भाजपा को किसानों की सुध आ रही है। भारतीय जनता पार्टी के नेता जवाब दें कि केन्द्र के द्वारा छत्तीसगढ़ के सेन्ट्रल पूल के चावल में कटौती कर 60 लाख मीट्रिक टन से घटा कर 24 लाख मीट्रिक टन किये जाने पर क्यों मौन है? जूट कमिश्नर ने छत्तीसगढ़ सरकार की मांग के अनुसार 3.5 लाख गठान बारदाने देने की सहमति नहीं दी, इस बारे में भाजपा नेताओं ने कब केन्द्र को पत्र लिखा? छत्तीसगढ़ के किसानों को धान की कीमत 2500 देने की छूट के लिये मोदी सरकार को भाजपा के किस नेता ने पत्र लिखा? जनता सांसदों का चुनाव तो इसीलिये करती है कि सांसद उनके हक की आवाज केन्द्र में उठायेंगे भाजपा के 9 सांसदों ने छत्तीसगढ़ के किसानों के हक की आवाज कब-कब केन्द्र के समक्ष उठाया है?

सीतापुर बाज़ार पहुँचे खाद्यमंत्री अमरजीत भगत, मंगरेलगढ़ी मंदिर में दर्शन कर माता का आशीर्वाद लिया

0

सीतापुर / छत्तीसगढ़ सरकार में खाद्य-नागरिक आपूर्ति, संस्कृति, योजना व सांख्यिकी मंत्री अमरजीत भगत अपने विधानसभा क्षेत्र सीतापुर के प्रवास पर हैं। इस दौरान वे सीतापुर के साप्ताहिक बाज़ार पहुँच गये और सब्ज़ियाँ और फल खरीदा। साथ वहाँ मौजूद ग्रामवासियों से बातचीत की और उनकी समस्याओं पर चर्चा की। साथ ही धान खरीदी व पीडीएस के संबंध में भी फीडबैक लिया। उन्होंने आमजनों से बातें करके जानने का प्रयास किया कि धान खऱीदी में क्या समस्या आ रही है। पीडीएस के तहत अनाज नियमित रूप से मिल रहा है या नहीं, या कोई और परेशानी तो नहीं है।


उन्होंने सीतापुर के प्रसिद्ध मंगरेलगढ़ी माता मंदिर में दर्शन कर पूजा-पाठ भी किया। उन्होंने बताया कि इस तरह की आम गतिविधियाँ, उन्हें जन-भावनाओं से जुड़कर और बेहतर कार्य करने हेतु ऊर्जा प्रदान करती हैं। उल्लेखनीय है कि खाद्यमंत्री अमरजीत भगत अक्सर इसी तरह बाज़ार जाकर स्वयं सब्ज़ी-फल आदि खरीदते हैं। सीतापुर आते हैं तो वे अक्सर मंगरेलगढ़ी मंदिर भी दर्शन हेतु जाते हैं।


मंत्री अमरजीत भगत ने सीतापुर ब्लॉक कांग्रेस कमेटी कार्यालय में क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों की बैठक लेकर संगठन के कार्यों की समीक्षा भी की। इस मौके पर आमजनों से मुलाकात कर छत्तीसगढ़ सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन के संबंध में चर्चा की। साथ ही स्थानीय लोगों से बात कर उनकी समस्याएं सुनी एवं संबंधित अधिकारियों को इनके निवारण हेतु निर्देशित किया।


इस दौरान ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष तिलक बहेरा सहित क्षेत्र के अन्य जनप्रतिनिधिगण एवं सीतापुर की एसडीएम भी मौजूद थीं।

फ़ार्मासिस्टों ने स्वास्थ्य मंत्री के गृह नगर में बैठक कर सरकारी पदों पर भर्ती की माँग दोहराई

0

00 छत्तीसगढ़ में है दवा उद्योग की अपार सम्भावनाए – राहुल वर्मा

अम्बिकापुर / इंडियन फार्मासिस्ट एसोसिएशन (IPA) छत्तीसगढ़ स्टेट ब्रांच के सरगुजा संभाग की बैठक आयोजित किया गया जिसमे सरगुजा संभाग के पांचो जिलो कोरिया , सरगुजा , बलरामपुर , जशपुर और सूरजपुर के फार्मासिस्टों के साथ साथ पुरे प्रदेश के विभिन्न जिलों रायपुर , बिलासपुर , दुर्ग , बालोद , मुंगेली , बलोदाबाज़ार , बेमेतरा से लगभग 100 फार्मासिस्ट शामिल हुवे।

छत्तीसगढ़ प्रदेश में फार्मासिस्ट के शासकीय पदों में भर्ती नहीं होना , दवा व्यवसाय में बढ़ रहे फार्मेसी डिग्री रेंटिंग की समस्या , फार्मेसी कालेजों में नॉन अटेंडिंग डिप्लोमा की पढाई धडल्ले से चलाना , छ.ग. स्टेट फार्मेसी कौंसिल की उदाशीनता आदि समस्याओ को लेकर बैठक में चर्चा की गई। राज्य संयोजक फार्मासिस्ट वैभव शास्त्री जी ने दो नए जिलों जशपुर और सूरजपुर IPA डिस्ट्रिक्ट ब्रांच का गठन कर पदाधिकारियों की नियुक्ति की। IPA जशपुर डिस्ट्रिक्ट ब्रांच के अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी फार्मासिस्ट विवेकानंद होता को दी गई उपाध्यक्ष फार्मासिस्ट पूनमचंद महतो , सचिव फार्मासिस्ट विक्रम बरार एवं सह सचिव फार्मासिस्ट गोपाल यादव को बनाया गया | सूरजपुर डिस्ट्रिक्ट ब्रांच के अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी फार्मासिस्ट विशाल दुबे एवं फार्मासिस्ट रूप नारायण यादव को सचिव बनाया गया। बलरामपुर डिस्ट्रिक ब्रांच में फार्मासिस्ट ब्रिजेश गुप्ता को नया अध्यक्ष नियुक्त किया गया फार्मासिस्ट अनजनी भगत को सहसचिव एवं फार्मासिस्ट हिमांशु एम्बास्ट को IT सेल प्रभारी नियुक्त किया गया। सरगुजा डिस्ट्रिक्ट ब्रांच में कुछ नए फार्मासिस्टों को जिम्मेदारी प्रदान की गई फार्मासिस्ट अनिश अहमद को उपाध्यक्ष फार्मासिस्ट नीरज दुबे को मिडिया प्रभारी , फार्मासिस्ट देवेश जैसवाल को कोषाध्यक्ष , फार्मासिस्ट अभय अग्रहरी को सह सचिव बनाया गया | प्रदेश सचिव फ़ार्मासिस्ट राहुल वर्मा ने विस्तार से फ़ार्मासिस्ट हित में IPA के द्वारा किए जा रहे कार्यों के बारे में बताया और बैठक में उपस्थित फ़ार्मासिस्टों को स्टेट फ़ार्मेसी काउन्सिल के कार्य की जानकारी दी उन्होंने बताया राज्य निर्माण से लेकर अब तक स्टेट फ़ार्मेसी काउन्सिल में डिग्रीधारी फ़ार्मासिस्ट सदस्य नहीं बनने के कारण राज्य के फ़ार्मासिस्टों के हित में एक भी कार्य नहीं हो रहे हैं । स्वास्थ्य मंत्री जी से आह्वान किया है की स्टेट फ़ार्मेसी काउन्सिल में केवल डिग्रीधारी पंजीकृत फ़ार्मासिस्टों का मनोनयन हो ।

बैठक में सीनियर फ़ार्मासिस्ट लव प्रकाश देवांगन , प्रदेश IT सेल अध्यक्ष फ़ार्मासिस्ट बलवंत बंजारे , प्रदेश सचिव फ़ार्मासिस्ट मिथिलेश रत्नाकर ने भी उपस्थित फ़ार्मासिस्टों का मार्गदर्शन किया ।

सुप्रीम कोर्ट का कृषि कानूनो पर रोक कृषि व कृषकों को बचाने वाला निर्णय – रूपेश दुबे

0

किसानों के हित मे निःशुल्क पैरवी करने वरिष्ठ अधिवक्ता विवेक के तनखा जी का आभार

डॉ रमन की पीड़ा उजागर भाजपा से नही कोर्ट के निर्णय से आशान्वित

राजनांदगांव / छग प्रदेश कांग्रेस कमेटी विधि विभाग के महामंत्री एवं जिला कांग्रेस कमेटी राजनांदगांव के प्रवक्ता रूपेश दुबे ने माननीय सुप्रीम कोर्ट के तीनों कृषि कानून पर रोक लगाने का अंतरिम निर्णय का स्वागत करते हुये एवं प्रकरण के निःशुल्क पैरवी करने वरिष्ठ अधिवक्ता कांग्रेस विधि विभाग के राष्ट्रीय अध्यक्ष विवेक के तनखा जी के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा कि केंद्र सरकार द्वारा अलोकतांत्रिक तरीके से तीन कृषि कानून लागू किया था उसके क्रियान्वयन पर रोक लगाने के आदेश से यह साबित होता है कि भारत में कृषि व कृषकों की चिंता भले केंद्र सरकार ना करें लेकिन न्याय व्यवस्था को उनकी चिंता अवश्य है ।

महामंत्री व प्रवक्ता दुबे ने बताया कि कोरोना संक्रमण काल के दौरान अलोकतांत्रिक प्रक्रिया से देश के सर्वोच्च सदन संसद में बिना चर्चा कराए तीन कृषि कानून पास किये थे जिसके विरोध में देश के युवा नेतृत्व राहुल गांधी जी व छ ग में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम जी निरंतर आवाज उठा कर किसानों के हित के लिए संघर्षरत थे। देश के कृषक समुदाय केंद्र सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिए थे उसके बाद भी पूंजीपतियों की पक्षधर भाजपा किसानों की चिंता किए बिना उनके आंदोलन को अर्बन नक्सली आंदोलन खालिस्तानीयों ,विदेशी फंड से होने वाले आंदोलन की संज्ञा देकर किसान व कृषि का अपमान लगातार कर रहे है अनवरत 48 दिन से अधिक सर्द मौसम व जान की परवाह किये बुजुर्ग, महिला, बच्चे,किसान डटे होने की दशा में माननीय सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले पर चिंता जाहिर करते हुए केंद्र सरकार के इस कानून पर प्रश्न चिन्ह लगाते हुए पर जल्द निर्णय लेने का निर्देश दिया था केंद्र सरकार अपनी हठधर्मिता व निष्क्रियता के चलते समाधान निकालने में असफल रही अतः माननीय सर्वोच्च न्यायालय ने आगामी आदेश तक के लिए इस कानून पर रोक लगाने के निर्णय दिया जो कृषकों के सम्मान की जीत है और उनके सम्मान की रक्षा न्यायालय ने किया है कि यह भारतीय न्याय व्यवस्था की भी जीत है इसके साथ ही माननीय उच्च न्यायालय ने तीनों कृषि कानून में किसानों के हित और अहित की समीक्षा का जो निर्देश दिया है इससे भी यह साबित होता है कि केंद्र सरकार उक्त तीनों काले कानून पारित कर देश में अफरातफरी का माहौल पैदा कर दिया है ।साथ ही निर्णय के बाद पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन का यह बयान आशान्वित हूँ की कोर्ट के निर्णय के बाद सकारात्मक समाधान होगा इससे यह साफ हो गया कि अब तक केंद्र सरकार व भाजपा किसानों के प्रति नकारात्मक भावना रखती थी जिसके कारण डॉ साहब आशान्वित भी नही थे उसी के चलते सही बात पार्टी में रख पा रहे थे जिसकी पीड़ा भी फैसले की प्रतिक्रिया से जाहिर हुई है।

पुरखौती मुक्तांगन में दर्शकों के भ्रमण-अवलोकन के लिए बैटरी चलित वाहन की सुविधा

0

पर्यटकों की सुरक्षा के लिए वायरलेस सिस्टम का उपयोग

पुरखौती मुक्तांगन में शुरू होगा गढ़कलेवा और संजीवनी विक्रय केन्द्र

संस्कृति मंत्री की अध्यक्षता में पुरखौती मुक्तांगन निर्माण एवं संचालन समिति की बैठक में कई अहम निर्णय

रायपुर / संस्कृति मंत्री अमरजीत भगत की अध्यक्षता में आज नवा रायपुर के उपरवारा स्थित पुरखौती मुक्तांगन में पुरखौती मुक्तांगन निर्माण एवं संचालन समिति की बैठक हुई। बैठक में पर्यटकों की सुविधा के लिए कई अहम निर्णय लिए गए। संस्कृति मंत्री श्री भगत ने कहा कि पुरखौती मुक्तांगन के पेड़-पौधों में सिंचाई के लिए समुचित पानी की व्यवस्था होनी चाहिए। उन्होंने पर्यटकों के लिए शुद्ध पेयजल की व्यवस्था करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। उन्होंने यहां आने वाले पर्यटकों के लिए सुरक्षा की पर्याप्त व्यवस्था के साथ शांतिपूर्ण वातावरण के लिए विशेष ध्यान रखने के भी निर्देश दिए है। बैठक में बताया गया कि पुरखौती मुक्तांगन में प्रतिदिन लगभग दो हजार दर्शक आते है। एक जनवरी को नववर्ष के अवसर पर करीब 15 हजार लोगों ने पुरखौती मुक्तांगन भ्रमण-अवलोकन का आनंद उठाया।

पुरखौती मुक्तांगन में आने वाले पर्यटकों खासकर वरिष्ठ नागरिकों की सुविधा के लिए यहां बैटरी चलित वाहन की सुविधा उपलब्ध कराने का निर्णय लिया गया। पुरखौती मुक्तांगन के प्रवेश शुल्क से प्राप्त आय से आने वाले दर्शकों के भ्रमण के लिए 6 वाहन 36 लाख रूपए से क्रय किए जाने का निर्णय लिया गया। बैटरी चलित वाहन 6 सीटर होगा। संस्कृति मंत्री ने सौर बैटरी चलित वाहन खरीदने के साथ ही मुक्तांगन के भीतरी हिस्से की सड़कों का चौड़ीकरण कराने के भी निर्देश दिए है। पुरखौती मुक्तांगन में सुरक्षा के दृष्टिकोण से यहां वायरलेस धारी (वाकीटॉकी) सुरक्षा कर्मी तैनात करने का भी निर्णय लिया गया। मुक्तांगन परिसर में गढ़कलेवा एवं लघु वनोपज संघ द्वारा संचालित संजीवनी विक्रय केन्द्र शीघ्र शुरू करने के संबंध में भी चर्चा की गई।

पुरखौती मुक्तांगन के मुख्य द्वार पर दर्शकों की सुविधा के लिए मैप-बोर्ड लगाने और मुख्य द्वार दोनों साइट में 9 दुकानों का निर्माण कराने, वाहन पार्किंग शेड का निर्माण, टिकट कांउटर की संख्या बढ़ाने सहित पूरे परिसर एवं आसपास के क्षेत्र में प्रकाश की पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित करने का भी निर्णय लिया गया। बैठक में संस्कृति विभाग के सचिव अन्बलगन पी., संचालक श्री विवेक आचार्य सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे। संस्कृति मंत्री श्री भगत ने बैठक पश्चात् पुरखौती मुक्तांगन का भ्रमण किया और यहां की वर्तमान व्यवस्था को बेहतर बनाने के साथ ही अन्य सुविधाओं के विस्तार के संबंध में अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

मेडिकल कॉलेज में दाखिला के नाम पर 34 लाख रुपए की ठगी 03 आरोपी गिरफ्तार

0

कांकेर / पुलिस अधीक्षक कांकेर एम आर आहिरे के निर्देशन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री गोरखनाथ बघेल एवं अनुविभागीय अधिकारी पुलिस मयंक तिवारी के पर्यवेक्षण में विवेचना के दौरान थाना पखांजूर पुलिस द्वारा मेडिकल कालेज दाखिला पर के नाम पर पखांजूर के महिला से 3400000 रुपये की ठगी करने वाले आरोपी को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त हुई है।

मामले का संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है कि प्रार्थीया शिखा दास जो कि कापसी स्कूल में शिक्षिका हैं ने थाना पखांजूर में अपराध दर्ज कराया था कि वर्ष 2018 में प्रार्थिया का फोन पर संपर्क मेडिकल काउंसलर से हुआ था जिसने अपने को मेडिकल काउंसलर तथा मंत्रालय में पहुंच बता कर पीड़िता के 02 बच्चों को मैनेजमेंट सेन्ट्रल पुल कोटा में बेंगलुरु मेडिकल कॉलेज में दाखिला दिलाने के का आश्वासन देकर 3400000 रुपए की ठगी कर ली है प्रार्थीया की रिपोर्ट पर थाना पखांजूर में अज्ञात आरोपियों के विरुद्ध अपराध क्रमांक 02/20 धारा 419,420 भादवि 66 (D) आईटी एक्ट पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया था विवेचना में घटना में संलिप्त आरोपी दीपक चटर्जी पिता स्व विश्वनाथ चटर्जी उम्र 50 वर्ष निवासी दिल्ली , प्रभुदीप सिंह उर्फ अरविंद गंगवार पिता ब्रजपाल सिंह उम्र 34 वर्ष निवासी बरेली ,जियाउल हक रहमानी पिता डा ए आर रहमानी उम्र 32 वर्ष निवासी गाजियाबाद को प्रोडक्शन वारंट पर हाजिर कर दिनांक 11/01/21 को गिरफ्तार किया गया तीनो आरोपियों ने देशभर में कई राज्यों में मेडिकल एवं इंजीनियरिंग कालेज में एडमिशन कराने का झांसा देकर लाखों रुपये की ठगी करना स्वीकार किये है आरोपियों में से दीपक चटर्जी निवासी दिल्ली अपने को शैक्षणिक सलाहकार बताया तथा पूछताछ के दौरान बताया है कि वह 2008 से इस प्रकार के कृत्य में संलिप्त रहा है 2013 में जेल भी जा चुका है ,तथा आरोपी जियाउल हक रहमानी एमबीबीएस डॉक्टर है रूस से एमबीबीएस की डिग्री प्राप्त किया है, तथा आरोपी प्रभु दीप सिंह इलेक्ट्रिकल इंजीनियर है सभी आरोपी हाईप्रोफाइल लोगों को मैनेजमेंट कोटा पर मेडिकल एवं इंजीनियरिंग कॉलेज में दाखिला के नाम पर धोखाधड़ी कर लाखों रुपए की लाखों रुपए के ठगी की करना स्वीकार किए हैं आरोपी ने प्रार्थी के दोनो बच्चे नीट की तैयारी कर रहे थे आरोपी द्वारा किसी प्रकार से उनका संपर्क नंबर ज्ञात कर प्रार्थिया से संपर्क किया और दोनों बच्चों को बेंगलुरु मेडिकल कॉलेज में दाखिला दिलाने का झांसा दिया आरोपीगण प्रार्थिया से वीडियो कॉल पर बात करते थे और अपने को मिनिस्ट्री के संपर्क में होने का दावा कर सेंट्रल पूल कोटा से प्रार्थीया की दोनों बच्चों का मेडिकल कॉलेज में दाखिला कराने की बात बोल कर जून 2019 से सितंबर 2019 के दौरान विभिन्न माध्यम कुल 34 लाख रुपये की ठगी किये थे। उसके बाद से आरोपियों ने प्रार्थिया से संपर्क तोड़ लिया था, प्रार्थीया अपने बच्चों मेडिकल कॉलेज में दाखिला के लिए आरोपियों से संपर्क करने का बहुत प्रयास किया परंतु आरोपीगणो ने अपने मोबाइल नंबर बंद कर लिए और अंडर ग्राउंड हो गए थे प्रार्थिया शिखा दास उसके बाद मेडिकल कॉलेज बेंगलुरु जाकर पता किया जहां यह ज्ञात हुआ कि उक्त नाम के व्यक्तियों से कॉलेज का कोई संबंध नहीं है तथा प्रार्थी के बच्चों का कॉलेज में दाखिला प्रक्रियाधीन नहीं है शिखा दास ने जनवरी 2020 में थाना पखांजूर में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। आरोपियों को गिरफ्तारी उपरांत माननीय न्यायालय पखांजूर में पेश कर न्यायिक अभिरक्षा में जेल दाखिल कराया गया है।

देश भर के विद्युत गृहों में छत्तीसगढ़ के विद्युत गृह पुनः अव्वल

0

छः माह से सतत् श्रेष्ठता हेतु मान.मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दी बधाई

विद्युत गृहों ने रचा सर्वाधिक 70.08 प्रतिशत पीएलएफ का कीर्तिमान

रायपुर / देश भर के ताप विद्युत गृहों को विद्युत उत्पादन के मामलें में पीछे ढकेलते हुए छत्तीसगढ़ राज्य सरकार के अधीन कार्यरत छत्तीसगढ़ स्टेट पाॅवर जनरेशन कंपनी के विद्युत संयंत्रों ने अव्वल होने का कीर्तिमान रचा। भारत सरकार के ऊर्जा मंत्रालय के अधीन कार्यरत केन्द्रीय विद्युत प्राधिकरण (सीईए) ने माह दिसम्बर 2020 के अपने प्रतिवेदन में इसे अंकित किया है। सीईए के अनुसार छत्तीसगढ़ विद्युत उत्पादन कंपनी के विद्युत गृहों ने 70.08 प्रतिशत पी.एल.एफ. प्रदर्शित किया जबकि राष्टीय स्तर पर देशभर के ताप विद्युत गृहों ने औसत 51.49 प्रतिशत पीएलएफ दर्ज किया है। देशभर के 33 स्टेट पाॅवर सेक्टर के विद्युत संयंत्रों को पिछले छह माह से निरन्तर पछाड़ते हुए अव्वल बने रहने के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कंपनी के चैयरमेन अंकित आनंद एवं एमडी (जनरेशन) एन.के.बिजौरा को बधाई दी।


एमडी (जनरेशन) एन.के.बिजौरा ने इस अभूतपूर्व उपलब्धि का श्रेय प्रदेश के ऊर्जावान नेतृत्व सहित पाॅवर कंपनी के अधिकारियों-कर्मचारियों के टीम वर्क तथा उत्कृष्ट प्रबंधन को दिया। उन्होंने कहा कि लगभग एक वर्षों से कोरोना वायरस के संक्रमण से बचते हुए विद्युत विकास के मामले में छत्तीसगढ़ ने स्वयं को देश में उत्कृष्ट बनाये रखा है। जुलाई 2020 से अधिकतम उत्पादन की बढ़त को बनाये हुए हमारे ताप विद्युत गृहों ने चालू वित्तीय वर्ष में दिसम्बर 2020 में 70.08 प्रतिशत का रिकार्ड तोड़ पीएलएफ को प्रदर्शित किया। जबकि देश के अन्य बड़े उन्नत विकसित राज्यों के विद्युत गृहों में शामिल महा.जेनको महाराष्ट्र को मात्र 46.68 प्रतिशत पीएलएफ ही दर्ज करने में कामयाबी मिली।


ऐसे दौर में केन्द्रीय विद्युत प्राधिकरण की रिपोर्ट के मुताबिक देशभर के विद्युत गृहों में छत्तीसगढ़ को प्रथम, तेलंगाना स्टेट पाॅवर जनरेशन को द्वितीय (68.25 प्रतिशत) तथा सिंगरेनी कोलियारिश निगम लिमिटेड (एससीसीएल) को तृतीय स्थान (67.59 प्रतिशत) प्राप्त हुआ।
समाचार क्रं. 112

भाजयुमो जिला बस्तर द्वारा पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह के ऊपर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा अमर्यादित टिप्पणी के विरोध में किया गया पुतला दहन

0

जगदलपुर / भारतीय जनता युवा मोर्चा जिला बस्तर द्वारा पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह के ऊपर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल छत्तीसगढ़ द्वारा अभद्र टिप्पणी किए जाने के विरोध में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का पुतला दहन किया गया।

जिला अध्यक्ष भाजपा रूप सिंह मंडावी ने कहा छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह जी के विषय में उन्होंने अमर्यादित भाषा का प्रयोग किया है। एक जिम्मेदार मुख्यमंत्री को यह शोभा नहीं देता और भारतीय जनता पार्टी इसका भरपूर निंदा करती है और आगे उन्हें सूचित करती है कि छत्तीसगढ़ की परंपरा नहीं है किसी व्यक्ति का अपमान किया जाए इसके लिए हम उन्हें सचेत करते हैं और छत्तीसगढ़ की किसी भी नागरिक के विषय में ऐसा कहना उचित नहीं है आगे उनको ध्यान रखने की आवश्यकता है।


भाजयुमो जिलाध्यक्ष रजनीश पाणिग्रही ने कहा कांग्रेस की सरकार बनने के बाद कांग्रेस के नेताओं को सत्ता का नशा सर चढ़कर बोल रहा है। कांग्रेस के मुख्यमंत्री उनके मंत्री उनके नेतागण लगातार अमर्यादित टिप्पणी कर रहे हैं विपक्ष की आवाज को दबाने का लगातार प्रयास किया जा रहा है। हमारे कार्यकर्ताओं को डराने धमकाने का काम पुलिस के माध्यम से किया जा रहा है एफआईआर दर्ज कर कार्यकर्त्ताओ को डराया जा रहा है।

इस पुतला दहन में मुख्य रूप से नगर अध्यक्ष सुरेश गुप्ता, नेता प्रतिपक्ष संजय पांडे, पूर्व नगर अध्यक्ष राजेन्द्र बाजपेयी, मनीष पारेख, संग्राम सिंह राणा,मनोहर दत्त तिवारी, महामंत्री अविनाश श्रीवास्तव, दशरथ गुप्ता, गणेश काले, मनोज पटेल, रवि कश्यप, जयराम दास, विनीत शुक्ला,प्रकाश रावल, प्रकाश झा,लक्ष्मण झा,आनंद झा, प्रितेश राव, अभिषेक तिवारी, सुर्यभूषण सींग,परेश ताटी, आलेख तिवारी, रिंकू शर्मा, अमित रामटेके, विकास पात्रों, विकास चाडक, अनिमेष चौहान, रोहित खत्री, शिरिष मिश्रा, बंटू पांडेय, आशु आचार्य, मनोज ठाकुर, योगेश मिश्रा,आदित्य दीक्षित,भुनेश्वर ध्रुव, कृष्णा निषाद, पी विनय राजू, आदित्य शर्मा, भावेश यदु, वैभव श्रीवास्तव,के साथ अन्य पदाधिकारी व कार्यकर्ता उपस्थित थे।

error: Content is protected !!