लोकसभा चुनावी तारीखों का ऐलान, 7 चरणों में होंगे चुनाव, 23 मई को नतीजे

00 इस बार के चुनावों में सभी पाेलिंग बूथ पर वीवीपेट मशीनों का इस्‍तेमाल होगा. पूरे देश में वोटि‍ंग के लिए कुल 10 लाख पोल‍िंग बूथ होंगे.

नई दिल्ली / चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनाव 2019 की तारीखों का ऐलान कर दिया. इस बार के चुनाव 7 चरणों में संपन्‍न होंगे. 23 मई को नतीजे आएंगे.

पहले चरण में 11 अप्रैल को 91 सीटों के लिए वोट डाले जाएंगे. ये 91 सीटें 20 राज्‍यों की होंगीं. दूसरे चरण की वोट‍िंग 18 अप्रैल को होगी. इस चरण में 97 सीटों के लिए वोट डाले जाएंगे. 23 अप्रैल को तीसरे चरण के लिए वोट डाले जाएंगे. 29 अप्रैल को चौथे चरण के लिए वोट डलेंगे. 6 मई को पांचवें चरण की वोटिंग होगी. 12 मई को छठे चरण की वोटिंग होगी. 19 मई को सातवें चरण की वोटिग होगी.

उल्लेखनीय है कि मौजूदा लोकसभा का कार्यकाल तीन जून को समाप्त होगा. चुनाव कार्यक्रम की घोषणा होते ही आदर्श आचार संहिता लागू हो गई. आचार संहिता लागू होने के बाद सरकार नीतिगत निर्णय नहीं ले सकेगी.

प्रेस कॉन्‍फ्रेंस को संबोधि‍त करते हुए मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त सुनील अरोड़ा ने कहा, इन चुनाव में 90 करोड़ वोट डाले जाएंगे. इस बार 8 करोड़ 43 लाख वोटर बढ़े. 18 से 19 साल के बीच के करीब डेढ़ करोड़ वोटर इस बार अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे. चुनाव आयोग का कहना है कि हमने इस बार चुनावी तारीखों के ऐलान में त्‍योहार और परीक्षाओं का भी ध्‍यान रखा है.

इन चुनावों में सभी इवीएम में वीवीपेट का इस्‍तेमाल होगा. इसके साथ ही ईवीएम पर उम्‍मीदवारों के फोटो भी लगे होंगे. इस बार के चुनावों में 10 लाख पोलिंग स्‍टेशन बनाए गए हैं. 2014 के लोकसभा चुनावों में 9 लाख पोलिंग स्‍टेशन थे. चुनावों में सभी संवेदनशील पाेल बूथ पर सीआरपीएफ के जवान तैनात होंगे. रात 10 बजे से लेकर सुबह 6 बजे तक लाउड स्‍पीकर पर रोक रहेगी.

मतदान केंद्रों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे. चुनाव आयोग से शिकायत के लिए एप बनाया गया है. ईवीएम की सुरक्षा के लिए जीपीएस ट्रेकिंग का इस्‍तेमाल किया जाएगा. चुनाव आयोग के अनुसार, शिकायत करने के 100 मिनट के अंदर कार्रवाई की जाएगी.

Share this news
  • 25
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Comment