Thursday, September 16, 2021
रायपुर चेम्बर की पहली बैठक, औद्योगिक इकाइयों की स्थापना कर...

चेम्बर की पहली बैठक, औद्योगिक इकाइयों की स्थापना कर स्थानीय लोगों को रोजगार देने के विषय पर हुई चर्चा

-

- Advertisment -

रायपुर / छत्तीसगढ़ चेम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज के प्रदेश अध्यक्ष अमर पारवानी, महामंत्री अजय भसीन, कोषाध्यक्ष उत्तम गोलछा, कार्यकारी अध्यक्ष राजेन्द्र जग्गी,विक्रम सिंहदेव, राम मंधान, मनमोहन अग्रवाल ने बताया कि आज छत्तीसगढ़ चेम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज के उद्योग चेम्बर की प्रथम बैठक चेम्बर कार्यालय में आयोजित हुई। बैठक में उद्योग चेम्बर के सलाहकार श्री सुनील जैन एवं श्री के.के.झा का शाल एवं पुष्पगुच्छ से सम्मान किया गया।

श्री पारवानी ने अपने उद्बोधन में कहा कि चेम्बर में इस बार उद्योग चेम्बर का गठन सबसे पहले हुआ है। उद्योग के प्रति हमारे मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की सोच बहुत ही सकारात्मक है। हमें कुटीर एवं लघु उद्योग, फुड प्रोसेसिंग, छोटे ग्रामीण इंडस्ट्रीयल पार्क एवं चीन एवं अन्य देशों से आयातित सामानों के लिये आयात विकल्प उत्पादों की सूची संग्रहित कर उसके आधार पर उत्पादों के निर्माण हेतु औद्योगिक इकाइयों की स्थापना की जानी चाहिये ताकि स्थानीय लोगों को रोजगार प्राप्त हो सके।

चेम्बर प्रदेश अध्यक्ष श्री पारवानी ने बताया कि भारत सरकार के द्वारा 358 वस्तुओं को एमएसएमई सूक्ष्म एवं लघु उद्यमियों के लिये आरक्षित की गई है, इस सूची में अन्य उत्पाद वस्तुओं को बढ़ाने हेतु शासन से चर्चा की जायेगी। उद्योगों में मशीनों का नवीनीकरण कर इंडस्ट्री 4.0 की कार्यशला का आयोजन उद्यमियों के लिये कराने पर सहमति बनी। इसी तर्ज पर छत्तीसगढ़ के लोकप्रिय मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की महत्वकांक्षी फुड प्रोसेसिंग एवं वनोपज सामग्रियों की प्रोसेसिंग की इकाइयों की स्थापना के लिये शीघ्र ही छत्तीसगढ़ के अलग-अलग जिलों में कार्यशाला का आयोजन सरकार के साथ मिलकर किया जायेगा ताकि यह योजना साकार रूप लेकर स्थानीय लोगों के लिये रोजगार पैदा कर एक समग्र वातावरण तैयार करे।

इसी कड़ी में एमएसएमई लघु उद्यमियों के लिये भारत सरकार के रसमड़ा, बोरई जिला दुर्ग स्थित एमएसएमई प्रौद्योगिकी केन्द्र के साथ एक एम. ओ. यू. हस्ताक्षरित करना प्रस्तावित है। साथ ही उन्नत एवं टिकाउ एग्रो इक्विपमेंट, उद्योगों के मशीनों के नवीनीकरण, उर्जा संरक्षण मशीनों, भारत सरकार के विभिन्न विभागों से तकनीकी हस्तांतरण हेतु चर्चा के लिये एक समग्र योजना बनाई जायेगी ताकि इसका लाभ छत्तीसगढ़ के लघु एवं सूक्ष्म उद्यमियों को प्राप्त हो सकेगा।

बैठक में प्रमुख रूप से उद्योग चेम्बर के सलाहकार सुनील जैन, के.के.झा, अध्यक्ष अश्विन गर्ग, कार्यकारी अध्यक्ष संजय चैबे, अनिल पटेरिया, विनोद केजरीवाल, महामंत्री भूपेन्द्र गुप्ता, कोषाध्यक्ष नीरज अग्रवाल, उपाध्यक्ष-विक्रम जैन, मुकेश पांडेय, करमजीत सिंह बेदी, संजय अग्रवाल, विनोद सचदेव, मंत्री-राहूल पटेल, रवि धावना, प्रदेश अध्यक्ष अमर पारवानी, महामंत्री अजय भसीन, कोषाध्यक्ष उत्तमचंद गोलछा, कार्यकारी अध्यक्ष राजेन्द्र जग्गी, ,विक्रम सिंहदेव, राम मंधान, कार्यालय प्रभारी नरेश गंगवानी उपस्थित थे।

Latest news

क्या आप बेरोजगार हैं और बेरोजगारी भत्ता नहीं लेते तो जल्द करें रजिस्ट्रेशन, लें लाभ

नई दिल्ली / सरकार बेरोजगारों के लिए सरकार बेरोजगारी भत्ता देती है, बेरोजगारों को भत्ता देने के...

बड़ा फैसला, मऊ में बनेगा ATS का सेंटर

प्रदेशउत्तर // देश में पाकिस्तानी आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़ हुआ है. इसी बीच उत्तर प्रदेश सरकार ने...

सबसे प्रभावशाली लोगों की लिस्‍ट में PM मोदी, ममता और तालिबान का सह-संस्थापक मुल्ला बरादर का भी नाम

दिल्ली // टाइम पत्रिका द्वारा जारी 2021 के 100 सबसे प्रभावशाली लोगों की सूची में प्रधानमंत्री नरेंद्र...
- Advertisement -

40 दिन में चौथे पाकिस्तानी टेरर मॉड्यूल का खुलासा, हाई अलर्ट जारी

पंजाब पुलिस ने बुधवार को एक ऑयल टैंकर को आईडी टिफिन बम की मदद से उड़ाने की...

राजधानी में ढाई लाख रूपए मूल्य का प्रतिबंधित पैंगोलिन स्केल्स की जप्ती

वन विभाग की बड़ी कार्रवाई : आरोपी गिरफ्तार रायपुर / वन एवं...

Must read

- Advertisement -

You might also likeRELATED
Recommended to you

error: Content is protected !!