Wednesday, April 14, 2021
अजब गजब अजब गजब - Bloodwood Tree को काटने पर निकलता है...

अजब गजब – Bloodwood Tree को काटने पर निकलता है इंसानों जैसा खून, रहस्यों से भरा है ये Tree

-

- Advertisment -

नई दिल्ली / यह तो बचपन से ही हम सबको बता दिया जाता है कि पेड़-पौधों में भी जिंदगी होती है और हमें उन्हें बेवजह छूना या काटना नहीं चाहिए. भारतीय तो शाम ढलने के बाद पत्तियां तक छूने से परहेज करते हैं. दुनिया में ऐसे भी लोग हैं जो फूल-पत्ती के तोड़े जाने या पेड़ों के कटने पर उनका दर्द तक महसूस करते हैं. पेड़ हमारे पर्यावरण का सबसे प्रमुख हिस्सा हैं और इनके कटने का विरोध किया जाना बेहद लाजिमी है. खैर, आज हम आपको एक ऐसे पेड़ के बारे में बताने जा रहे है, जिसके कटने पर उसमें से इंसानों जैसा लाल खून निकलने लगता है.

दुनिया का एक ऐसा पेड़ जिसे काटते ही बहने लगता है खून: Bloodwood tree

पेड़ से निकलता खून
दुनिया में एक ऐसा रहस्यमयी पेड़ है, जिसे काटने पर उसमें से लाल रंग का पदार्थ निकलने लगता है. यह लाल पदार्थ बिलकुल इंसानी खून जैसा नजर आता है इसलिए हो सकता है कि इसे देखकर आप डर या चौंक जाएं. यह पेड़ दक्षिण अफ्रीका में पाया जाता है. यह अपने आप में ही बेहद खास और अनोखा है. 

दक्षिण अफ्रीकी ब्लडवुड ट्री
यह अनोखा ब्लडवुड ट्री दक्षिण अफ्रीका के अलावा मोजाम्बिक, नामीबिया, तंजानिया और जिम्बाब्वे जैसे देशों में भी पाया जाता है. इस पेड़ को लोग ‘ब्लडवुड ट्री’ के नाम से जानते हैं. इसके अलावा यह पेड़ किआट मुकवा और मुनिंगा जैसे नामों से भी प्रचलित है. वहीं इसका वैज्ञानिक नाम ‘सेरोकारपस एंगोलेनसिस’ है.

बनती हैं दवाइयां 
इस पेड़ के अंदर लाल रंग का सैप होता है. इसको काटने पर निकलने वाला लाल रंग का पदार्थ भले ही थोड़ा डरावना है लेकिन आपको यह जानकर हैरानी होगी कि इसका उपयोग दवाई के रूप में किया जाता है. इसके इस्तेमाल से पेट की समस्या, मलेरिया और कई गंभीर चोटें तक ठीक हो जाती हैं. इसके अलावा यह पेड़ खून संबंधी बीमारियों को भी ठीक करता है. ऐसे में लोग इस पेड़ को जादुई पेड़ भी कहते हैं. आपको यह जानकर हैरानी होगी कि इसका उपयोग दवाई के रूप में किया जाता है.

Latest news

देश कोरोना से लड़ रहा और भाजपाई आपस मे, अब तो कांग्रेसी भी ले रहे मजे, भाजयुमो जिलाध्यक्ष नियुक्तियों को बता रहे निराधार

कोरिया / लम्बे इंतजार के बाद भारतीय जनता पार्टी के भाजयुमो कोरिया जिला अध्यक्ष का चयन हो...

कोरोना की सभी जांच दरों में कमी की गई, RTPCR 550 रूपये में होगा ...

            रायपुर / कोविड संक्रमण की रोकथाम के लिए राज्य शासन ने...

जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) की नई कार्यकारिणी घोषित, 250 सदस्य पदाधिकारी बनाए गए, देखें सूची…

रायपुर / प्रदेश में तेज़ी से बढ़ते कोरोना महामारी के संकट को ध्यान...

लॉकडाउन में कड़े प्रतिबंध के बावजूद भी जारी है घंटानाद सत्याग्रह

कोरिया जिले में लॉकडाउन के दौरान प्रशासन के कड़े प्रतिबंध के बावजूद रेलवे डिवीजन बिलासपुर के पूर्व...
- Advertisement -

कोरोना वारियर्स दे रहे विकासखंडवार सेशन साइटो में निरंतर सेवायें, कोविड टीकाकरण और जांच के लिए 82 स्थल निर्धारित

कोरिया / बढ़ते हुए कोरोना संक्रमण को द्रष्टिगत रखते हुए स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोरोना नियंत्रण के लिए...

Must read

- Advertisement -

You might also likeRELATED
Recommended to you