पढ़ाई तुँहर दुआर योजना में शिक्षकों ने पढ़ाया, सरकार को मिला ई-गवर्नेस अवार्ड-फेडरेशन

444

कोरिया / कोरोना संक्रमण काल में भले ही स्कूल बंद रहे लेकिन शिक्षकों ने विभिन्न तरीकों से पढ़ाना जारी रखा था।जिसके कारण राज्य शासन को ई-गवर्नेस अवार्ड मिला है। ई-गवर्नेस अवार्ड का मिलना ही शिक्षकों के लगन और सेवाभाव का प्रमाण है। उक्त आशय को छत्तीसगढ़ प्रदेश शिक्षक फेडरेशन के प्रांताध्यक्ष राजेश चटर्जी ने वार्षिक आमसभा में व्यक्त किया।


फेडरेशन के उप प्रांताध्यक्ष राजेन्द्र सिंह एवं कोरिया जिला अध्यक्ष रवींद्रनाथ तिवारी ने बताया कि जे एन पाण्डेय शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय रायपुर के सभागार में आयोजित हुए वार्षिक आमसभा में प्रदेश के लगभग सभी जिलों से शिक्षक शामिल हुए। 28 फरवरी को सेवानिवृत्त हो रहे अशोक रायचा (रायपुर संभाग अध्यक्ष) को प्रांताध्यक्ष राजेश चटर्जी द्वारा प्रांताध्यक्ष का आसंदी एवं दायित्व देकर तथा सेवा सम्मान पदक से सम्मानित किया गया।


उन्होंने बताया कि आमसभा में शिक्षक संवर्ग को समयमान वेतनमान स्वीकृति पर सही विकल्प लेने का तरीकों पर विशेषज्ञ कुबेर राम देशमुख ने विस्तृत जानकारी उदाहरण सहित दिया।आमसभा में पुराने पेंशन योजना को लागू करने पर जोर दिया गया है। विगत वर्ष 2020 के वार्षिक प्रतिवेदन का अनुमोदन सर्वसम्मति से किया। फेडरेशन के स्थायी निधि एवं संपत्ति की व्यवस्था के लिए प्रत्येक ब्लॉक/तहसील इकाई में अधिक से अधिक संरक्षक सदस्य एवं आजीवन सदस्य बनाने का संकल्प पारित हुआ। वर्ष 2021 के लिए ए के ए एंड कंपनी दुर्ग को लेखा परीक्षक नियुक्ति किया गया। छत्तीसगढ़ सोसाइटी रजिस्ट्रीकरण अधिनियम की धारा 27 एवं 28 के अंतर्गत कार्यवाही के लिए सर्वाधिकार प्रांताध्यक्ष को दिया। नियाय पाती अभियान के फलस्वरूप शासन स्तर पर हुए कार्यवाही की जानकारी एवं आगामी रणनीति तय किया गया।


उप प्रांताध्यक्ष राजेन्द्र सिंह के द्वारा प्रांतीय सम्मेलन करने का प्रताव पारित हुआ। सभी वक्ताओं ने सहायक शिक्षकों को तृतीय समयमान/क्रमोन्नत वेतनमान एवं संवर्गीय पदोन्नति पर तार्किक पक्ष रखते हुए तत्सम्बन्धी आदेश जारी का माँग शासन से किया। अरुण ध्रुव अध्यक्ष तकनीकी शिक्षा प्रकोष्ठ एवं रविन्द्र सिंह पोर्ते ने तकनीकी शिक्षा विभाग के शैक्षणिक संवर्ग के भर्ती-पदोन्नति नियम बनाये जाने पर जोर देते हुए,नए नियम बनाये जाने के के आवश्यकता पर विस्तृत प्रतिवेदन आमसभा में प्रस्तुत किया। आमसभा को जिला अध्यक्षों ने आमसभा को संबोधित किया ।आमसभा में 9 प्रस्तावों को सर्वसम्मति से पारित किया। आमसभा में शिक्षकों ने गीत एवं कविता सुनाकर अपने प्रतिभा का बेहतरीन प्रस्तुति देकर आमसभा में उपस्थित सदस्यों का मनोरंजन किया। आमसभा में सरगुजा, बिलासपुर, रायपुर, दुर्ग एवं बस्तर संभाग के पदाधिकारियों एवं सक्रिय सदस्यों ने भाग लिया।।